loading...
loading...

अदरक के फायदे और नुकसान हिंदी में

loading...

Adrak ke fayde in hindi अदरक के फायदे और नुकसान हिंदी में  अदरक पौधे की जड़ होती है. जोकि जमीन के अन्दर पैदा होता है.इसमें बिज का अंश नहीं होता है.अदरक की खेती करने के लिए अदरक के टुकडो को काटकर जमीन में गाढ दिया जाता है.
अदरक की खेती शेतकरी (किसान) को बहुत फायदेमंद होती है. जिसके सुख जाने से सौंठ बनता है.

Adrak(अदरक)

अदरक के फायदे

अदरक के फायदे

अदरक के गुण कई सारे है. जानते है-शरीर की पाचन शक्ति बढाता है,कब्ज गैस की समस्या,वमन की समस्या,खांसी जुखाम की समस्या के लिए एक आयुर्वेदिक जडीबुटी की तरह काम करता है.

अदरक को इंग्लिश में जिंजर(ginger) और मराठी में आद्रक.

अदरक और सौंठ के गुण एक समान ही होते है.अदरक का उपयोग खाने से पहले करने से आपकी भूख को भी बढाता है और कब्ज की बीमारी का भी इलाज करता है. अदरक का रस आयुर्वेदिक दवाई की तरह ही काम करता है. अदरक का रस मूत्र पेशाब के रोगों को ठीक करता है.

अदरक और शहद के इस्तमाल से उलटी होने की शिकायत दूर होती है.अदरक और शहद को लेकर चाटने से सांस लेने की बीमारी दमा,खांसी से लेकर क्षय रोग तक और हिचकी ,जम्हाई बढ़ जाने पर इसका इस्तमाल किया जाता है.
अदरक का रस और शहद को लेकर आपको होने वाले दांत के दाढ़ दर्द से छुटकारा मिलता है.

अदरक के फायदे :

अदरक के फायदे कई सरे है,अदरक का इस्तमाल से आपके कई सरे रोगों का इलाज हो जाता है.जानते है क्या है अदरक के फायदे हिंदी में और कैसे आप अदरक के फायदे से अपना इलाज कर सकते है.

  • जुकाम खांसी का इलाज :

जुकाम खांसी

जुकाम खांसी

१ तौला अदरक का रस और शहद गरम करके दिन में दो बार लेने से एक हप्ते के अन्दर आपको होने वाले जुकाम और खांसी के साथ दमा रोग में आराम मिलता है.

  • घुटनों का दर्द का इलाज:

घुटनों का दर्द

घुटनों का दर्द

आधा पाँव सौंठ लेकर रात को आधे लिटर पानी के साथ पीसकर इसको अछि तरह से छान लेना है.अब एक किलो आंटा घी में मिलाकर भुन ले इसमें पिसा हुना सौंठ और आधा किलो चीनी के साथ 2 तोला मिश्री  इसमें मिलाकर 50 ग्राम की मात्रा में दूध के साथ लेने से घुटनो का दर्द का आयुर्वेदिक उपाय होता है.

  • भूख को बढाने के लिए :

    भूख को बढाने के लिए

    भूख को बढाने के लिए

६ ग्राम अदरक बारीक़ काटकर उसपर नमक लगाकर दिन में एक बार खाना चाहिए हाजमा ठीक होगा और इसके इस्तमाल करने से भूख को बढाने का उपाय होगा.

  • गला खराब होने पर उपाय:

गला बैठना

गला बैठना

गला खराब होने पर नमक लगाकर अदरक खाने से आपका ख़राब गला ठीक करने में मदत होती है.आपका आवाज ठीक और गला साफ़ होता है.

  • पेट दर्द का आयुर्वेदिक इलाज:

पेट दर्द

पेट दर्द

निम्बू के रस ने अदरक और अजवायन डालकर इसको सुखाकर पिस ले और थोडा सा नमक मिलाकर रख ले.दोनों समय एक ग्राम चूर्ण पानी के साथ सेवन करने से पेटदर्द ,पेट का गैस के साथ खट्टी डकार की प्रोब्लेम दूर होती है.

  • आवाज बैठ जाने का इलाज:

गला बैठना

गला बैठना

अगर आपकी किसी चीज के कारन आवाज बैठ गया है तो आपको अदरक को अच्छी तरह से बारीक़ पिसकर चाशनी में डालकर पकाना है और पाक जाने पर सौंठ,काली मिर्च ,नागकेसर,जावित्री,धनिया,पीपल,सफेद जीरा,तेजपान,बड़ी इलायची,काला जीरा,वायविडंग और पीपला मूल के साथ अदरक का बाहरका भाग लेकर कूटकर छान कर मिलाले.

इसका 2 चम्मच चूर्ण रोजाना लेने से आपकी बैठी हुई आवाज खुल जाती है.

  • सर्दी का इलाज:

सर्दी का इलाज

सर्दी का इलाज

अदरक की एक छोठी गांठ को महिम कुतरकर इसमें गुल की एक छोठी डली मसलकर इसको धीमी आंच पर गैस पर रखदे इसको अच्छे से हिलाकर ठंडा होने दे.इसका सेवन रातको कुनकुना ही चबाकर खाना है और इसके साथ या बाद पानी नहीं पीना है.

अदरक की चाय पिने से आपके गले की खराश दूर होती है.अदरक की चाय बनाने के तरीके जल्द ही हम आपको बतायेंगे.

  • दांत का दर्द का इलाज:

दाढ़ का दर्द

दाढ़ का दर्द

अदरक का टुकड़ा दाढ़ के निचे रखकर और इस अदरक का रस चूसने से दर्द मिट जाता है.

  • ह्रदय रोग:

ह्रदय रोग

ह्रदय रोग

अदरक का रस और पानी एक साथ मिलाकर सुबह शाम दिन में दो बार पिने से हार्ट प्रॉब्लम में फायदा होता है.

  • बवासीर का इलाज:

बवासीर

बवासीर

एक गिलास छाछ में चौथाई चम्मच सौंठ मिलकर रोजाना पिने से बवासीर में लाभ होता है.

  • महिलाओ का मासिक धर्म में दर्द :

मासिक धर्म में दर्द

मासिक धर्म में दर्द

१० ग्राम गुड और १० ग्राम सौंठ एक गिलास पानी में मिलाकर पानी को उबाल ले जब पानी आधा हो जायेगा इसको छानकर मासिक धर्म आने से पहले १५ दिन पहले लेने से औरतो का पीरियड यानिकी मासिक धरम  में दर्द कम होता है और रुक रुक कर मासिक धर्म की समस्या इसको अनियमित मासिक दर्म का इलाज के लिए असरदार पाया गया है.

  • गठिया रोग :

गठिया रोग

गठिया रोग

१०० ग्राम हरड, १५ ग्राम अजमोद के साथ २५ ग्राम सौंठ लेकर पीसकर १ चम्मच सुबह शाम पानी के साथ लेने से गठिया रोग में आराम मिलता है.

  • मधुमेह में आराम के लिए:

डायबिटीज

डायबिटीज

50 ग्राम जामुन की गुठली ,50 ग्राम सौंठ ,१०० ग्राम गुडमार,ग्वारपाठ के रस में खरल करके छोटी छोटी गोलिया बनाकर दिन में एक एक गोली ३ बार लेने से मधुमेह के रोग में लाभ होता है. डायबिटीज के लक्षण जानने के लिए.

  • अजीर्ण का इलाज :

अजीर्ण

अजीर्ण

निम्बू का रस के साथ अदरक का रस और नमक मिलाकर लेने से अपच और अजीर्ण का इलाज हो जाता है.

  • पेट के कीड़े:

पेट के कीड़े

पेट के कीड़े

काला नमक,लहसुन और अदरक गन्ने के सिरके में मिलाकर पिने से पेट के कीड़े मरने के लिए इलाज होता है.

  • मुंह की बदबू मिटाने के लिए :

मुंह की बदबू

मुंह की बदबू

अगर आपको लगता है की आपके मुंह की बदबू से आपका इम्प्रैशन कम हो रहा है तो आपको डरने की जरुरत नहीं है. मुह की बदबू के लिए एक गिलास गरम पानी में १ चम्मच अदरक का रस मिलाकर इस पानी से कुल्हा करने से मुंह की दुर्गन्ध आना बंद होता है.

अदरक के नुकसान :

अदरक के नुकसान नही है अगर आप इसका इस्तमाल ज्यादा मात्रा में नहीं करना चाहिए.

अदरक गरम होने के कारन इसको गर्मी में इस्तमाल नहीं करना चाहिए यही है अदरक के नुकसान है.

ginger in hindi

loading...
देसी घरेलु उपाय हिंदी में जानकारी
पेट के रोग वशीकरण के उपाय
चेहरे की सुंदरता नौकरी लगने के टोटके
बालों का इलाज लड़की को पटाने के तरीके
 यौन रोगों का इलाज सपनो का अर्थ स्वप्नफल
प्रेगनेंसी की टिप्स खाने के फायदे
मासिक धर्म(पीरियड्स) दिमाग तेज कैसे करे?
 मोटापा कम करे भगवान की पूजा
 दांत के उपाय स्मोकिंग की आदत से छुटकारा
 बाबा रामदेव योगा लाल किताब के टोटके

Leave a Reply