कमरख के फायदे (Star Fruit) हिंदी में जानकारी

कमरख के फायदे कई सारे है आज हम कमरख के फायदे के बारेमे जानकारी देंगे हिंदी में.

कमरख के फायदे हिंदी में 

कमरख के फायदे

कमरख के फायदे

 कमरख का वृक्ष  २० फिट तक ऊँचा होता है | इसका फूल सफेद एव बैंगनी रंग के होते है | पका हुआ कमरख का फल शीतवीर्य , मधुर से रुचिकर , प्यास बुझाने वाला , पित्तशामक , रक्तविकारनाशक तथा शक्तिदायक होता है |

कमरख का पका फल खुनी बवासीर की श्रेष्ट दवा माना जाता है | इसकी तासीर ठंडी होती है |

 कच्चा कमरख खट्टा , वायुनाशक , मलरोधक , गरम व् पित्तकारक होता है | कमरख का कच्चा फल पचने में हल्का  होता है |

इसमें अम्ल , मधुर व् कषाय रस मिलते है | यह भोजन के प्रति रूचि व भूक बढ़ता है तथा दस्त भी ठीक हो जाते है |यह खुनी बवासीर , रक्तपित्त , संग्रहनी , स्कर्वी तथा रक्तविकार में उपयोगी है |

यह खून के गर्मी को शमन करके रक्त साफ़ करता है | गर्मी से होने वाले बुखार को दूर करता है |

घरेलू उपाय :

प्यास :

 पके हुए कमरख का सेवन करने या इसके शरबत से प्यास बुझती है |

नेत्र रोग :

 इसके रस की २-३ बूंद आँख में कुछ दिन डालने से आँख का जाला साफ़ होता है |

कमरख के पत्ते :

 कमरख के पत्ते शारीरिक जलन को दूर करते है , रक्त को शुद्ध करते है , तथा दस्त बांधने वाले होते है | ये भूक को बढ़ाते है |

कमरख के बीज :

 इसके बीज वमनकारक अर्थात उल्टी कराने में उपयोगी होते है | हमेशा पके हुए कमरख का फल ही प्रयोग में लेना चाहिए |

वमन :

 २ चम्मच कमरख का रस दिनों में ४-५ बार लेने से पित्त वमन में लाभ होता है

भूक खुलना :

 भोजन में अरुचि हो या पेट भारी रहता हो तो कमरख का एक फल नमक के साथ खाने से भूक खुलती है |

पित्ती :

 पित्ती तथा वातरोग में सुबह-शाम कमरख खाने से लाभ होता है |

अतिसार :

 कमरख का ताजा रस या शरबत पैत्तिक अतिसार में लाभदायक होता है|

देसी घरेलु उपाय हिंदी में जानकारी
पेट के रोग वशीकरण के उपाय
चेहरे की सुंदरता नौकरी लगने के टोटके
बालों का इलाज लड़की को पटाने के तरीके
 यौन रोगों का इलाज सपनो का अर्थ स्वप्नफल
प्रेगनेंसी की टिप्स खाने के फायदे
मासिक धर्म(पीरियड्स) दिमाग तेज कैसे करे?
 मोटापा कम करे भगवान की पूजा
 दांत के उपाय स्मोकिंग की आदत से छुटकारा
 बाबा रामदेव योगा लाल किताब के टोटके

Leave a Reply