loading...
 

देसी घरेलु नुस्खे

घरेलु उपाय / तरीका

शादी के टोटके प्यार पाने के तरीके
मोटापा का इलाज नौकरी चाहिए ?
६ पैक बनाये तुरंत लड़की का चक्कर
सपने में देखना गलती से प्रेग्नंट हो ?
आंटी को पटाना है ? चुदाई के लिए लड़की चाहिए ?
रंडी के साथ सेक्स ? किसी के भी साथ सेक्स करना है ?
लड़की के ब्रैस्ट पुरुष का लिंग
loading...
loading...

करेला के औषधीय गुण हिंदी में

करेला के गुण

करेला के गुण

करेला के गुण

    कच्चा करेला सब्जी बनाने तथा पका करेला बीज के लिए उपयोगी होता है | आप इसको करेले की सब्जी करेला जूस बनाने के बाद भी इस्तमाल कर सकते हो | इसके कई आयुर्वेदिक गुण और घरेलू नुस्खे में उपाय करी है |

करेला स्वास्थ्य के बहुत लाभदायक सब्जी है | करेले में विटामिन ‘सी ‘ , लौह , केल्सियम , फास्फोरस आदि खनिज होते है |

करेला भूक बढाने वाला , पित्त-कफ , कृमिनाशक व शूल नाशक तथा आँखों के हितकारी है |

करेला के घरेलू आयुर्वेदिक उपचार :

मुह के छाले :

 करेले के रस से कुल्ला करने से मुह के छाले ठीक हो जाते है |

पेट के कीड़े :

 २ तोला करेले करेले के रस में , 3 ग्राम वायविडिंग का चूर्ण मिलाकर पीने से पेट के कीड़े मर जाते है |

मूत्र में खून आना :

एक छोटे करेले का रस तीन दिन तक दोपहर में पीने से खून आना बंद हो जाता है |

गर्मी की अलाइया :

 चोधाई कप करेले के रस में १ चम्मच मीठा सोडा मिलाकर दिन में २-३ बार लेप लगाने  से गर्मी के मौसम में होने वाली अलाइया या घमौरिया ठीक हो जाते है|

सुजन :

 १ तोला करेला रस , १ ग्राम सोंठ का चूर्ण भोजन के बाद सेवन करने से लाभ होता है |

रक्तशुद्धी :

 करेले का रस में गाजर और पालक मिलाकर पीने से शरीर में रक्त की शुद्धी होती है |

दूषित दूध :

 स्तनों में दूध दूषित हो जाए तो माँ को कुछ दिनों तक करेले की सब्जी खानी चाहिए , इससे दूध शुद्ध हो जाता है |

सिरदर्द :

 करेले के रस माथे पर लेप लगाने से सिरदर्द दूर हो जाता है |

बार – बार मूत्र जाना :

 बार-बार मूत्र आता हो और दर्द के साथ आता हो तो २ तोला करेले के रस में १ ग्राम कलमीशोरा मिलाकर पीने से तथा इसी मिश्रण को कपड़े में भिगोकर पेडू पर रखने से लाभ होता है |

शरीर के विकार :

 २ चम्मच करेले का रस सुबह बासी मुह सेवन करने से खून साफ़ होकर शरीर के अंदर के सभी विकार नष्ट हो जाते है |

मोटापा :

 करेले के रस में नींबू का रस मिलाकर पीने से मोटापा दूर होता है |

मासिक -धर्म के विकार :

 आधा से एक कप करेले के रस में चौथाई चम्मच सौंठ का चूर्ण मिलाकर पीने से सभी प्रकार के मासिक धर्म संबंधी विकार दूर होते है |

मधुमेह :

 करेले के सूखे बीजो का चूर्ण १ चम्मच भोजन से पूर्व पानी के साथ लेने से मधुमेह रोग में लाभ होता है |

आंतों के कृमि :

 २-२ चम्मच पत्तो का रस सुबह-शाम पीने से आंतों के कीड़े मर जाते है |

loading...

Leave a Reply