loading...
loading...

कील मुंहासे का घरेलू उपाय आयुर्वेदिक उपचार हिंदी में जानकारी

कील मुंहासे (Keel muhase)

कील मुंहासे मिटाने का घरेलु आयुर्वेदिक उपाय

कील मुंहासे मिटाने का घरेलु आयुर्वेदिक उपाय

कील मुंहासे क्या है :

Keel muhase ke gharelu upay hindi आयुर्वेद में कील मुंहासे  का होना  किशोर अवस्था में हारमोन्स के असंतुलन का कारण माना जाता है | पिम्पल्स के दाग होते है.
परंतु वातावरण दोष या शरीर में अशुध्द रक्त की उपस्थिती के कारण भी मुँहासे होते है |

मुहांसे होने के कारण:

ये मुंहासे कैई कारण से पैदा होते है , जीनमे खाने पिने का आहार तथा जीवनचर्या भी शामिल है |मुहासे होने का कारण कई सारे है.

      मोटापा बढाने वाली अर्धात दूध ,दही ,पनीर तथा चॉकलेट आदि के अलावा मेवे की बनी मिठाईया तैलीय तथा कठिनाई से पचने वाले खाद्य -पदार्थो का अधिक सेवन करने , दिन के समय सोने ,शारीरिक व्यायाम न करने , आलस्य करने से कफ विकार उत्पन्न होता है , जिनसे निकला हानिकार पदार्थ रोमछीद्रो को बंद कर देता है |
वात से जुडे होने के कारण मुंहासे अकसर दर्द भरे तथा नाजुक होते है |

कील मुंहासे का घरेलू उपचार :

पिम्पल हटाने के उपाय के लिए आप आयुर्वेदिक घरेलु उपचार भी कर सकते हो.चेहरे पर दाने के उपाय कर सकते हो.
इसके लिये बहुत सारे उपाय कम में ला सकते है चेहरे के गड्ढे भरने के उपाय,चेहरे के दाग धब्बे हटाने के उपाय की जानकारी हिंदी में कील मुंहासे हटाने के उपाय –

  • जायफल को दूध के साथ पीस ले और फिर इसे प्रभावित स्थान पर लागाएं |
    यह बिलकुल जादुई असर दिखता है | इससे कील मुंहासे बिना कोई निशाने छोडे गायब हो जाते है |
  • तीन बडे चम्मच शहद और एक बडा चम्मच दालचीनि पाउडर मिलाकर लेप तैयार करे |
    सोने से पहले इस लेप को मुंहासे पर लगा ले और सुबह गुनगुने पानी से धो ले | ऐसा दो साप्ताह तक करणे से मुंहासे साफ हो जाएंगे |
  • यदि चेह्र्रे पर मुंहासे तथा त्वचा फटी हुई है तो गिलास दूध में निंबू रस मिलाकर इसे क्लिंजर की तरह इस्तेमाल करे |
  • एक छोटा चम्मच नींबू का रस और एक छोटी चम्मच दालचीनी  पाउडर के मिश्रण को प्रभावित स्थान पर लगाए |
  • साहिजन की फलीयो तथा पात्तियो को पीसकर इन्हे ताजे नीबू के रस के साथ मिला ले और मुहासो पर लगाए |
    यह गहरे दाग-धब्बो पर भी असर दिखता है |
  • मेथी की ताजी पात्तियो के लेप को 10-१५ मिनट के लिएं चेहरे पर लगाए और फिर गुनगुने पानी से धो ले |इससे मुंहासे नही होती |
  • चंदन की लकडी को गुलाब जल में घीसकर लेप  तैयार कर ले |
    प्रभावित स्थान पर लगाए और २०-३० मिनट बाद हलके गुनगुने पानी से  धो ले |

चेहरे का निखार कैसे लौटाए घरेलु नुस्खे हिंदी में

  • संतरा  के छिलको को पानी के साथ पिसकर लेप तैयार कर ले |
    इसे मुहासो तथा इनके आस पास के स्थान पर लगाए | थोडी समय मे मुंहासे सूख जाएगे |
  • एक चम्मच जायफल तथा चौधाई चम्मच काली मिर्च को दूध में मिलाकर लेप तैयार कर ले और प्रभावित स्थानो पर लगाए |
    इससे मुंहासे सख्त नही हो पाएगे और दब जाएगे |
    इससे कुछ  खुजली अथवा जलन अधिक समय तक बनी रहे तो यह उपयोग बंद कर दे |
  • इस बाद की पूरी सावधानी बरतनी चहिए कि मुंहासे को न तो दाबाएं ,न ही उनके साथ छेडछाड करे | नाना प्रकार के लोशन , क्रीम लागने से स्थिती और भी बिगड जाती है |
  • बताए गए आयुर्वेदिक घरेलू इलाज के अलावा चेहरे को निम्बू पानी से धोया करे , सप्ताह में एक बार चेहरे को बफारा दे तो रोमकूप खुले रहते है |
    अनावश्यक छेडछाड न करने से कम-से-कम चेहरा खराब होने से बच सकता है | इससे मुंहासे काले नही पडते और फैलते भी नही और इसके कारन चेहरे के गड्ढे कैसे भरे की भी समस्या दूर होती है.

चेहरे के बाल कैसे हटाए हमेशा के लिए घरेलु तरीका

Gore Hone ke tarike रंग गोरा कैसे करे.

Leave a Reply