प्याज खाने के फायदे औषधीय गुण

प्याज खाने के फायदे benefits of onion in hindi. onion khane ke fayade kai sare hai.

आज आप जानेंगे प्याज खाने के फायदे जिसमे हम आपको बताएँगे की प्याज का रस का इस्तमाल किन बीमारियों के लिए किया जाता है क्यूँ कहा जाता है प्याज को एक आयुर्वेदिक शक्तिवर्धक.

प्याज के फायदे :

प्याज खाने के फायदे

प्याज खाने के फायदे

प्याज सब्जिओ में और मसालों में सभे अहम् भाग है.प्याज गर्म और खुश्क होता है. प्याज के कारण आप लू से बाख सकते हो. आयुर्वेदिक चिकित्सा में प्याज का इस्तमाल कई सालो से करते आ रहे है.

प्याज में एक दुर्गुण है वो हे की प्याज को खाने से मुह की बदबू आती है. प्याज सेहत के लिए अत्याधिक फायदेमंद है क्यूंकि प्याज खाने से आपका स्टैमिना बढ़ता है और प्याज आपकी रोगों से बचने के लिए मदत करता है.

प्याज को खाने से आपके जोड़ों की बीमारी अन्य अलग अलग इंफेक्शन से शरीर को इन्फेक्शन होने से बचाता है. और इसके इस्तमाल से तरह तरह की अन्य बीमारियां दूर होती हैं इसलिए प्याज खाने से इंसान की उम्र बढ़ती है ऐसा भी कहा जाता है.

प्याज के औषधीय गुण:

प्याज के प्रति 100 ग्राम में पाए जाने वाले पोषक तत्त्वकी जानकारी :

प्रोटीन की मात्रा 1.2 ग्राम
कार्बोहाइड्रेट की मात्रा 11.1
विटामिन की मात्रा 15 मि.ग्रा.
वसा की मात्रा 0.1 ग्राम
कैल्शियम की मात्रा 46.9 मिग्रा.
विटामिन की मात्रा  11 मिग्रा.
खनिज की मात्रा 0.4 ग्राम
फॉस्फोरस की मात्रा 50 मि.ग्रा.
कैलोरी की मात्रा 50 मि.कै.
फाइबर की मात्रा 0.6 ग्राम
लौह की मात्रा 0.7 मि.ग्रा.
पानी की मात्रा 86.6 ग्राम होती है .

प्याज खाने के फायदे जिनसे आप अपना आयुर्वेदिक घरेलु इलाज करेंगे.

प्याज खाने के फायदे:

बाल झडने की समस्या का इलाज:

  • प्याज का रस बालों के लिए गुणकारी है.
  • प्याज का रस निकालकर सर पर लगाने से बालों का गिरना बंद होता है और बाल घने और बाल चमकदार होते है.
  • अगर आपको बाल गिरने की समस्या हो रही है तो आपको प्याज का रस को हफ्ते में ३-४ बार लगाने से बाल का टूटना बंद हो जायेगा.
  • गंजेपण का इलाज करने के लिए आपके गंजे भाग पर प्याज का रस निकालकर इसी रस से तुरंत मालिश करनी है.

कान का दर्द में सहायक :

  • गरम राख में प्याज को अच्छी तरह भुनकर इस प्याज का रस निकालकर इस प्याज के रस को कान में डालने के बाद कान का दर्द में आराम मिलता है. अगर आपको कान से कम सुने दे रहा हो यानिकी इसको मराठी में बहिरापन भी बोलते है ऐसी समस्या हो रही है तू भी आप इस प्याज के रस का इस्तमाल कर सकते हो.
  • सफ़ेद प्याज का रस और मुर्गी के अंडे की सफ़ेद भाग को मिलाकर कान में कुछ बुँदे डालने से कान का दर्द दूर होता है.

सिरदर्द का इलाज है प्याज:

  • प्याज को किसी चीज से कुचलकर पैरो के तलवो पर लगाने से या केवल प्याज को काटकर सूंघने से सर में होने वाला दर्द कम होता है.प्याज को सूंघने से दिमाग दौड़ने लगता है.

पेट के कीड़ो का उपाय प्याज से :

  • अगर आपके पेट में कीड़े हो गए है या आपके पेट में जलन हो रही हो तो आपको प्याज का रस पिने से पेट के कीड़े मर जाते है.

बच्चों का पेटदर्द का आसान इलाज:

  • अगर आपके बच्चो का पेट दर्द हो रहा हो तो आपको प्याज का रस निकाल कर इस प्याज के रस की 2-३ बुँदे शहद के साथ मिलाकर बच्चो ने चाटने से पेटदर्द का इलाज होता है.

जुखाम के लिए आयुर्वेदिक नुस्खा :

  • अगर आपको जुखाम हुआ है तो आपको रात को सोते समय एक छोटा प्याज खाना है ऐसा करने से आपका जुखाम का इलाज घर पर ही हो जायेगा.

नेत्ररोग का इलाज:

  • प्याज के रस को निकालकर हर रोज आँखों में कुछ दिनों तक लगाने से आपको आँखों से दिखाई न देने की समस्या नहीं रहती.

दांत में दर्द का इलाज:

  • अगर आपके दांतों में दर्द हो रहा है तो आपको रात को सोते समय आपके दांत के निचे प्याज का टुकड़ा दबाकर रखने से दांत का दर्द ठीक होता है.

अपचन का इलाज :

  • अगर आपको अजीर्ण की समस्या हुई है तो आपको कच्चे प्याज के रस को निकालकर इस रस में नमक मिलाकर पिने से अजीर्ण में लाभ होता है.

कब्ज का इलाज :

  • खाना खाने के वक़्त रोज एक प्याज (कांदा) खाना चाहिए क्यूंकि इसके कारन आपको कब्ज की समस्या नहीं होती है.

पेशाब में जलन का इलाज:

  • अगर आपको पेशाब में जलन यानिकी पेशाब करने के समय पर लिंग में या योनी में जलन हो रही है तो इसके उपचार के लिए आपको प्याज को बारीक टुकडो में काटकर इसको पानी में अच्छी तरह से उबाल ले. उबालकर इस पानी को कुछ दिन तक आपको पीना है ऐसा करने से मूत्र की जलन दूर होती है.

महिलाओ के मासिक धर्म में रूकावट का इलाज:

  • कई महिलाओ को लडकियों को मासिक धर्म यानिकी पीरियड्स अनियमित आने से तकलीफ होती है और इसका कारण होता है मासिक धर्म में रूकावट . तो इसका उपाय करने के लिए औरतो को कच्चे प्याज का रस निकालकर इसको पिने से माहवारी की रूकावट दूर होती है.

मासिक धर्म में होने वाले दर्द को कम करता हैं:

प्याज़ मासिक धर्म के दौरान होने वाले दर्द को कम करता हैं. इसलिए प्याज़ रोजाना खाना चाहिए. प्याज के कई सारे तत्व पेनकिलर की तरह काम करते हैं. इसलिए मासिक धर्म (पीरियड्स) होने से ४-५ दिन पहले प्याज खाना शुरू करे.

गले की सुजन :

  • अगर गले में सुजन हुई है तो प्याज को पीसकर गले पर लगाने से गले का दर्द और सुजन ठीक हो जाती है.

 

 

loading...

Leave a Reply