loading...
 

देसी घरेलु नुस्खे

घरेलु उपाय / तरीका

शादी के टोटके प्यार पाने के तरीके
मोटापा का इलाज नौकरी चाहिए ?
६ पैक बनाये तुरंत लड़की का चक्कर
सपने में देखना गलती से प्रेग्नंट हो ?
आंटी को पटाना है ? चुदाई के लिए लड़की चाहिए ?
रंडी के साथ सेक्स ? किसी के भी साथ सेक्स करना है ?
लड़की के ब्रैस्ट पुरुष का लिंग
loading...
loading...

सरसों के फायदे हिंदी में जानकारी

सरसों के फायदे

सरसों के फायदे

सरसों के फायदे

नमस्कार दोस्तों आप सभी का कैसे करे . कॉम पे स्वागत है आज हम आपको सरसों के फायदे के बारेमे जानकारी देनेवाले है जिससे आप घर पर ही सरसों के फायदे का इस्तमाल करके अपने रोगों का इलाज कर सकते है | सरसों की उत्पत्ति सारे भारत में होती है| इसके बीजों से खाद्य तेल निकलता है| सरसों के तेल से बना आचार लंबे समय तक सुरक्षित रहता है| इसकी खली, जड़, तना सभी उपयोग में आते हैं| सरसों पीली, सफेद, काली पाई जाती है| यह बवासीर, खुजली, कृमि, कोड, कान के रोग तथा श्वेत कुष्ठ रोग नाशक होती है|

सरसों के फायदे उपचार :

जोड़ों का दर्द:  

सरसों के तेल की मालिश करने से जोड़ों का दर्द ठीक होता है|

दंत विकार:

 सरसों के तेल में नमक मिलाकर मसूड़ों की मालिश करने से दांत व मसूड़े के सभी विकार नष्ट होते हैं|

गठिया:

 सरसों के तेल में कपूर डालकर मालिश करने से गठिया के दर्द में लाभ होता है|

खांसी:

 सरसों पीसकर, शहद मिलाकर चाटने से सूखी खांसी से आराम मिलता है|

कान का दर्द :

 कुनकुना सरसों का तेल डालने से मल फुल कर बाहर आ जाता है तथा कान का दर्द ठीक हो जाता है|

चर्म रोग:

 सरसों के तेल में आक के पत्तो का रस मिलाकर औटाए|  इसे ठंडा कर चर्म रोगों पर लगाने से लाभ होता है|

विषपान:

 जहरीला पदार्थ खा लेने पर गर्म पानी में सरसों के दाने पीसकर पिलाने से वमन के द्वारा विषाक्त पदार्थ बाहर निकल जाता है|

रंग निखार:

 सरसों का तेल, बेसन, कपूर, व दही मिलाकर उबटन करने से त्वचा निखरकर चमक जाती है| सरसों के दाने उबालकर पीसकर उबटन करने से चेहरे के रंग में निखार आता है|

तिल्ली:

 बच्चों की तिल्ली बढ़ जाने पर सरसों को कुनकुना कर कुछ दिन तक पेट पर मालिश करने पर तिल्ली बढ़ना रुक जाता है |

कान में कीड़ा:  

कान में कीड़ा घुस गया है तो सरसों के तेल में तीन-चार कली लहसुन की डालकर तेल को कुनकुना क्र १-२ बूंद कान में डालने पर कीडा मरकर तेल के साथ बाहर आता है|

दमा:

सरसों के बीजों की चाय पीने से  दमा तथा खांसी में लाभ होता है|

दर्द:

शरीर पर सरसों के तेल की मालिश करने से मांसपेशियों का दर्द समाप्त हो जाता है|

मुंहासे:

 सरसों, वच, लोध्र, सेंधा नमक, मिलाकर पानी के साथ पीसकर चेहरे पर लेप लगाकर कुछ देर बाद रगड़ कर छुड़ा दे| इससे कील-मुंहासे मिटते है|

loading...

Leave a Reply