loading...

शहद के फायदे जानकारी

शहद के फायदे

शहद के फायदे

शहद के फायदे

 शरीर को स्वस्थ बनाने में शहद विशेष भूमिका निभाता है और अनेक रोगों से हमारी रक्षा करता है |बच्चे का जन्म होते ही उसे सबसे पहले शहद ही चटाया जाता है |इसका कारण यह है कि बच्चे का जन्म के 10 -15 घंटे बाद ही मां के स्तनों में मुश्किल से दूध आता है |इस अंतराल में सभी बच्चों को जीवन शक्ति देता है |शहद हल्का और शीघ्र पचने वाला तत्व है ,जो पेट में पहुंचते ही रक्त में मिल जाता है |

   शहद में ग्लूकोज ,माल्टोज ,फ्रक्टोजj ,गोंद ,मोम ,क्लोरोफिल के अलावा विटामिन,बी ,सी पाए जाते हैं |तांबा मैग्नेशियम ,केल्सियम ,लोहा तत्व सोडियम ,फॉस्फोरस ,गंधक ,आयोडीन तथा एंटीसेप्टिक तत्व भी इस में विद्यमान रहते हैं |

पहचान :

पका हुआ शहद सैकड़ों वर्षो तक बना रहता है |यहीं असली और वास्तविक शहद होता है |असली शहद पानी में डालने पर सीधा तली में उतर जाता है और पानी में नहीं घुलता |असली शहद आंखों में लगाने पर जलन करता है तथा कागज या कपड़े पर निशान नहीं छोड़ता |

 सावधानिया:

शहद को कभी आग पर नहीं तपाना चाहिए तथा चाय -कॉफी में मिलाकर नहीं पीना चाहिए |मांस -मछली के साथ शहद नहीं खाना चाहिए |बुखार और प्याज में शहद का सेवन न करें |शहद हमेशा ठंडा दूध में डालकर पीना चाहिए |शहद और पानी कभी भी बराबर मात्रा में न मिलाएं ,यह हानिकारक होता है |हमेशा शुद्ध और असली शहदी प्रयोग करना चाहिए |

शहद के घरेलू उपाय :

झुका जायफल को पीसकर शहद के साथ चाटने से पुराने   |

मिर्गी :

 यह बच का चूर्ण खाने और दूध का चावल का भोजन करने से पुराना मिर्गी रोग दूर हो जाता है |

मोलाना :

शहद चुना और पैर तीनों को एक साथ पीस कर गर्म करके लेप लगाने से सूजन व दर्द में लाभ मिलता है |

मुंह आना :

बच्चों का मुहाने पर गैरों पीसकर घी और शहद मिलाकर चाटने से लाभ होता है |

कान बहना

पहले कान में शहद टपका कर फिर पिचकारी से पानी मारकर दूर डाले फिर पीली कौड़ी की भस्म कान में डालने से कान बहना शीघ्र बंद हो जाएगा |

पेट का गैस :

शहद अदरक व नींबू का रस क्षेत्र में मिलाकर दिन में तीन बार खाने से  पेट का गैस का प्रकोप शांत होता है |

शारीरिक थकान :

 शहद तथा नींबू के रस का शरबत बनाकर पीने से शारीरिक थकान दूर होकर शरीर में ताजगी मिलती है सूखा रोग बच्चे को सूखा रोग होने पर दूध में शहद मिलाकर पिलाएं |

शरीर में गर्मी :

गर्मी की तेजी होने पर 25 ग्राम आंवले के रस में 10 ग्राम शहद मिलाकर दिन में दो-तीन बार पीने से शरीर की गर्मी शांत हो जाती है  |

 काली खांसी :

मक्का के दाने निकालकर उसके बच्चे को जलाकर राख कर ले फिर 2 ग्राम 509 शहद में मिलाकर 1 सप्ताह तक सेवन करने से काली खांसी में लाभ होता है |

स्वप्नदोष :

दूध में शहद मिलाकर पीने से स्वप्नदोष धातु जाना वह मर्दाना कमजोरी में लाभ होता है|

दमा :

शहद अदरक व अनुशासन 55 ग्राम मिलाकर दिन में तीन बार पीने से दमा में लाभ होता है |

 

देसी घरेलु उपाय हिंदी में जानकारी
पेट के रोग वशीकरण के उपाय
चेहरे की सुंदरता नौकरी लगने के टोटके
बालों का इलाज लड़की को पटाने के तरीके
 यौन रोगों का इलाज सपनो का अर्थ स्वप्नफल
प्रेगनेंसी की टिप्स खाने के फायदे
मासिक धर्म(पीरियड्स) दिमाग तेज कैसे करे?
 मोटापा कम करे भगवान की पूजा
 दांत के उपाय स्मोकिंग की आदत से छुटकारा
 बाबा रामदेव योगा लाल किताब के टोटके

Leave a Reply