loading...
 

देसी घरेलु नुस्खे

घरेलु उपाय / तरीका

शादी के टोटके प्यार पाने के तरीके
मोटापा का इलाज नौकरी चाहिए ?
६ पैक बनाये तुरंत लड़की का चक्कर
सपने में देखना गलती से प्रेग्नंट हो ?
आंटी को पटाना है ? चुदाई के लिए लड़की चाहिए ?
रंडी के साथ सेक्स ? किसी के भी साथ सेक्स करना है ?
लड़की के ब्रैस्ट पुरुष का लिंग
loading...
loading...

सोयाबीन के फायदे हिंदी में

सोयाबीन के फायदे

सोयाबीन के फायदे

सोयाबीन के फायदे

सोयाबीन पोषक खाद्य पदार्थों में से एक है | यह प्रोटीन से भरपूर दाल है | इसमे वसा भी बहुतायत मात्रा में होता है |

सोयाबीन से प्रोटीन के अलावा विटामिन और खनिज के साथ साथ भोजन तत्व भी प्राप्त होते हैं | विटामिन के कारण इसका दूध गाय भैंस के दूध के समान उपयोगी है |

इसके दूध से आतों को बल मिलता है | प्रयोग से दुर्बल शरीर बलवान होकर विकसित होता है | यह आहार संबंधी रोगों को दूर करने में सक्षम है|

  सोयाबीन का उपयोग :

इसका सेवन करने से कब्ज के साथ-साथ अन्य बीमारियों भी दूर होती है | यह मानव की जैविक आवश्यकता को पूरा करने में सक्षम है | इसमें दूध अंडा मांस से भी अधिक प्रोटीन है|

कैंसर विरोधी ,ह्रदयघात विरोधी तथा स्वास्थ्यवर्धक तत्व इसमे होते हैं और छाती का कैंसर रोकने का विशेष गुण पाया जाता है |

आटा ,दूध , हरी फलिया, अंकुरित दाने और तेल के रूप में किया जाता है | सोयाबीन का आटा बहुत स्वास्थ्यवर्धक होता है |इसके दूध से दही भी बनाया जाता है | सोयाबीन का आटा गेहूं के आटे से भी ज्यादा पोषक होता है | यह एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जो शरीर की कोशिकाओं की समस्त कार्य को ठीक रखता है |

सोयाबीन का दूध बनाने की विधि :

सोयाबीन का दूध बनाने के लिए इसके बीजों को 12 से 14 घंटे तक पानी में भिगो कर रखा जाता है | फिर इसका छिलका उतारकर बारीक पीस लिया जाता है | बारिक लुगदी तैयार हो जाने पर पेस्ट से 3 गुना पानी मिलाकर धीमी आंच पर गर्म करते है | हल्का ठंडा होने पर इसे छानकर शक्कर मिलाकर प्रयोग में लिया जाता है |

रक्त की कमी :

लोह तत्व  की अधिकता के कारण रक्ताल्पता के रोगी के लिए इसका उपयोग अंत्यत लाभदायक है | परंतु रक्ताल्पता के रोगों की पाचन शक्ति कमजोर होती है , इसका सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए |

चर्म रोग :

दाद ,खुजली आदि रोगों में सोयाबीन अंत्यतलाभदायक है | इस के कारण से त्वचा की खुजली खत्म होती है कुछ ही दिनों में रोग समाप्त होकर त्वचा पर निखार आता है |

मधुमेह :

इस में कार्बोहाईड्रेट्स की काफी मात्रा होती है | लेकिन इसमें स्टार्च न के बराबर होने के कारण यह मधुमेह के रोगियों के लिए बहुत उपयोगी है | इसमें मौजूद कार्बोहाईड्रेट्स से शरीर में शर्करा उत्पन्न नही होती वरन शरीर को उर्जा और शक्ति प्राप्त होती है |

मूंगफली के गुण हिंदी में.
मूंग दाल के फायदे हिंदी में.
उड़द दाल खाने के फायदे.
loading...

Leave a Reply