हर्निया रोग का घरेलु उपचार

By | July 16, 2017

हर्निया रोग का घरेलु उपचार

हर्निया रोग

हर्निया रोग

loading...

अगर आपको हर्निया की समस्या है तो नीचे दिए गए हर्निया रोग का घरेलु उपचार  जिससे आप हर्निया का ऑपरेशन भी करसकते हो 

हर्निया रोग का घरेलु उपचार :

  • एरंडी की जड़, रास्ना खरैटी, गिलोय तथा मुलहटी सभी 4 ग्राम लेकर पाव भर पानी में क्वाथ बनाए। 25 ग्राम पानी बचे तो छान लें तथा इसमें 10 ग्राम एरंड तेल मिलाकर रोगी को प्रतिदिन शाम को खिलाए। इससे रोगी को राहत मिलेगी।
  • हर्निया के रोगी को भुजंगासन शिर्षासन पश्चिमोत्तानासन सर्वांगासन तथा चित्र देखने के बाद पैर उठाकर किए जाने वाले आसन हुआ हल्के व्यायाम करने चाहिए। किसी योग विशेषज्ञ से सलाह लेकर यह क्रियाएं करें। बेहतर परिणाम के लिए हर्निया पेटी का प्रयोग अवश्य करें। अलबत्ता, योगिक क्रियाए करते समय पेटी न लगाए।
  • एरंड के तेल में 1OO ग्राम छोटी हरड़ सेंके तथा इसके साथ काला नमक 10 ग्राम, अजवाइन 20 ग्राम व भूमी हींग 10 ग्राम मिलाकर बारीक चूर्ण बनाएं। 6-6 ग्राम की मात्रा में यह चूर्ण सवेरे श्याम खाए तथा ऊपर से एक पाव दूध में 25 ग्राम शक्कर तथा 25 ग्राम गोमूत्र मिलाकर पिए।
  • हर्निया का जब भी आक्रमण हो तो रोगी को पीट के बल लिटा दें। तथा नितंबों के नीचे तकिया लगाकर ऊंचा रखें। अब जिस स्थान पर कस्ट महसुस हो रहा हो वहा उंगलियों से सहलाते हुए दबाव दीजिए। इससे दर्द कम हो जाएगा।
  • इतना करने पर भी दर्द कम ना हो तो उपवास करें और विश्राम करना चाहिए। उपवास करते समय दिन में दो बार गुनगुने पानी का एनिमा ले। आंतों में पानी उतना ही पहुंचाना है जितना कि आंत्रपुच्छ पर अनावश्यक दबाव न बनाए। स्थिति सुधर जाने पर और उपवास टूट जाने पर भी हर हफ्ते एनिमा लेकर पेट की सफाई करते रहना चाहिए।
  • रोगाक्रम के समय उपवास काल में प्यास लगने पर एक बार में ही ज्यादा पानी न पीकर घुट-घुटकर के दिन में कई बार पीना उचित है।
  • स्थिति सुधारने पर उपवास अचानक नहीं तोड़ना चाहिए। उपवास धीरे धीरे करके तोड़ना चाहिए।
  • हर्निया के रोगी को वात नाशक आहार सेवन करना चाहिए।
  • तेल, मसाले, अधिक चाय, धूम्रपान, भारी वजन उठाना आदि से बचना चाहिए।
  • हर्निया में बेहतर होगा कि आप ज्यादा से ज्यादा आराम करें।
  • हर्निया के लक्षण से आप हर्निया रोग में ख्याल रख सकते हो|
टाइफाइड ज्वर का इलाज.
दिमाग तेज़ कैसे करें हिंदी में जानकारी.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *