क्लीटोरिस से चरम सीमा का मजा कैसे लें ?

, , Leave a comment

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको क्लिटोरिस से चरम सीमा का मजा कैसे लें के बारे में जानकारी देने वाले है | हम देखते हैं कि बहुत सारी महिलाओं को सेक्स करते समय अपने पार्टनर से चरम सीमा का मजा नहीं मिलता है | जिसके कारण महिलाएं खुद के योनि के ऊपर होने वाला क्लीटोरियस को गर्म करती है और खुद को चरम सीमा तक पहुंचाने की कोशिश करती है |

दोस्तों हम आपको बताना चाहते हैं कि यौन गतिविधियों के दौरान लड़की के योनि पर होने वाला क्लिटोरिस एक ऐसा अनुभव होता है, जिसके कारण महिला के शरीर में सेक्स उत्तेजना पैदा होती है और महिला सेक्स करने के लिए तैयार हो जाती है |

बहुत सारी महिलाएं खुद के शरीर को संतुष्ट करने के लिए क्लिटोरिस का इस्तेमाल करती है, बहुत सारे मर्द अपने पार्टनर को ठीक तरह से चरम सीमा तक नहीं पहुंचा पाते हैं | जिसके कारण महिलाएं और जवान लड़कियां खुद के शरीर को सेक्स संतुष्टि देने के लिए क्लिटोरिस को गर्म करती है और खुद को संतुष्ट करने की कोशिश करती है |

क्लीटोरियस महिला के शरीर पर एक ऐसा अंग है जो महिला के शरीर में ऑर्गेज्म को बढ़ाता है और महिला को चरमसुख प्राप्त करने में मदद करता है |

क्लिटोरिस क्या होता है ?

क्लिटोरिस
क्लिटोरिस
  • महिला के शरीर में सेक्स उत्तेजना लाने के लिए महिला के योनि के ऊपर होने वाला एक अंग होता है जिसे क्लिटोरिस कहते हैं |
  • महिला को संभोग का अत्यधिक और सुखद अनुभव देने के लिए क्लिटोरिस को अच्छी तरह से संतुष्ट करना चाहिए |
  • क्लिटोरिस पूरी तरह से मांसपेशियों से बना हुआ होता है, महिला के शरीर में जब उत्तेजना आती है तब यह मांसपेशी पूरी तरह से संकुचन हो जाती है जिसके कारण महिला अधिक ऑर्गेज्म का अनुभव लेती है |
  • महिला को तीव्र यौन उत्तेजना देने के लिए पुरुष महिला की योनि में लिंग डालते समय महिला के क्लिटोरिस को अपनी उंगलियों से हिलाते रहते हैं | जिसके कारण महिला के मूत्र मार्ग के पास स्थित ग्रंथिया स्त्रावित करने लगती है |
  • क्लीटोरियस के कारण ही महिला के योनि से चिपचिपा पानी बाहर निकलता है, जिससे पुरुषों को अपना लिंग महिला के योनि में डालने में और भी आसानी होती है |

क्लिटोरिस की सेक्स करते समय क्या महत्वपूर्ण भूमिका है ?

 सेक्स करते समय क्लिटोरिस
सेक्स करते समय क्लिटोरिस
  • देखा जाए तो महिलाओं की योनि काफी ड्राई होती है, महिलाओं की ड्राई योनि में लिंग डालते समय पुरुषों को काफी दर्द होता है और लिंग अंदर जाने में काफी दर्द होता है |
  • जिसके कारण महिला का शरीर प्राकृतिक तरीके से ही ऐसा बनाया हुआ होता है कि पुरुष जब महिला की क्लिटोरिस पर अपनी उंगलियां घुमाता है तब महिला के शरीर में अचानक से उत्तेजना आने लगती है जिससे महिला की योनि पूरी तरह से गीली हो जाती है |
  • महिला की योनि गीली होने के कारण पुरुष अपना लिंग महिला के योनि के अंदर आसानी से डाल पाता है और महिला के साथ घंटों तक संभोग क्रिया कर पाता है |
  • महिला के योनि के ऊपर क्लीटोरियस होने के कारण ही महिला के शरीर में उत्तेजना पैदा होती है, और महिला की योनि से चिपचिपा पानी बाहर निकलता है | जिसके कारण सेक्स जीवन में महिला को उत्तेजित करते समय क्लिटोरिस एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है |

सेक्स करते समय क्लीटोरियस को सहलाने से लड़की को कैसा लगता है ?

क्लीटोरियस को सहलाने से
  • सेक्स करते समय लड़का जब लड़की के क्लिटोरिस को हिलाता है तब लड़की को काफी मजा आता है |
  • बहुत सारे लड़के ऐसे होते हैं जो सेक्स करते समय लड़की के क्लिटोरिस को हिलाते नहीं है, लड़की के क्लिटोरिस को अगर आप नहीं हीलाओगे तो इससे लड़की के शरीर में उत्तेजना नहीं आएगी और लड़की आपके साथ सेक्स करने में मजा नहीं ले पाएगी |
  • लड़की के क्लिटोरिस को सहलाने से लड़की के शरीर में उत्तेजना तो आती ही है लेकिन लड़की को इंतजार रहता है कि लड़का कब हमारे योनि में अपना लिंग डालेगा | लड़की ऐसे वक्त काफी उतावली हो जाती है और लड़कों के साथ सेक्स करने की तलाश में रहती है |
  • बहुत सारी लड़कियां क्लिटोरिस को सहलाने से इतनी ज्यादा उत्तेजित हो जाती है कि लड़की लड़कों को अपने दांतों से काट लेती है और लड़के से चरम सीमा की तलाश करती है |
  • योनि और क्लिटोरिस दोनों उत्तेजना भरे अंग है जो शरीर में ऑर्गेज्म को बढ़ाते हैं और खुद के शरीर को संतुष्ट करने की कोशिश करते हैं | जिसके कारण सेक्स करते समय लड़की को काफी मजा आता है और लड़की को ऐसा लगता है कि हम घंटों तक इस क्रिया में होने चाहिए |

जी स्पॉट को सहलाने से लड़की जल्दी झड़ जाती है क्या ?

जी स्पॉट
जी स्पॉट

जी स्पॉट को सहलाने से लड़की के शरीर में काफी उत्तेजना आ जाती है जिसके कारण लड़की को ऐसा लगता है कि लड़कों ने हमें घंटों तक संभोग सुख देना चाहिए |

लेकिन घंटों तक संभोग सुख देना संभव नहीं होता है, जिसके कारण लड़की के जी स्पॉट को हिलाने से लड़की के शरीर में तुरंत उत्तेजना आ जाती है और लड़की सेक्स करने के लिए तैयार हो जाती है |

कई बार लड़की के शरीर में अगर काफी ज्यादा उत्तेजना आ जाती है तो जी स्पॉट को गर्म करने से लड़की के योनि से सफेद पानी बाहर आ जाता है |

कुछ लड़कियां ऐसी होती है जो शरीर में उत्तेजना आने पर खुद को कंट्रोल नहीं कर पाती है और अपनी योनि में उंगली डालकर योनि से सफेद पानी बाहर निकालती है |

इसलिए सेक्स करते समय हमेशा ध्यान रखें कि लड़की को चरम सीमा तक ले जाए जिससे लड़की के योनि से ऑटोमेटिक सफेद पानी बाहर निकलेगा |

लड़की का जी स्पॉट कहा होता है ?

लड़की का जी स्पॉट
लड़की का जी स्पॉट

जिस तरह से लड़की को गरम करने के लिए लड़के लड़की के योनि में उंगली करते हैं, लड़की के क्लिटोरिस को हिलाते है, उसी तरह से लड़की के जी स्पॉट को गर्म करने से लड़की काफी गर्म हो जाती है |

लड़की के योनि का जो छेद होता है उसके ऊपरी हिस्से पर लड़की का जी स्पॉट होता है, लड़की के जी स्पॉट को ही क्लिटोरिस कहते हैं |

लड़की के जी स्पॉट को गर्म करने से महिला के शरीर में ऑर्गेज्म बढ़ता है, जिससे लड़की लड़के के साथ सेक्स करने की इच्छा करती है |

कामसूत्र में कहा गया है कि लड़की के जी स्पॉट को गरम करे बगैर लड़की के साथ सेक्स ना करें, एक बार अगर आप लड़की के जी स्पॉट को अच्छी तरह से सहलाते हो तो लड़की ऑटोमेटिक अपनी टांगे फैलाती है |

लड़की के योनि का दाना चूसना चाहिए क्या ?

योनि का दाना चूसना

दोस्तों हम आपको बताना चाहते हैं कि अगर आप लड़की के योनि का दाना चूसते हो तो लड़की आसानी से आपको सेक्स करने देगी |

आमतौर पर हम देखते हैं कि लड़कियां जल्दी सेक्स करने के लिए राजी नहीं होती है, लेकिन अगर आप लड़की के शरीर में उत्तेजना पैदा करते हो लड़की के योनि को गर्म करते हो तो लड़की खुद होकर आपको सेक्स करने के लिए कहेगी |

बहुत सारी लड़कियां ऐसी होती है जो सेक्स करना चाहती है, लेकिन हमेशा सही वक्त का इंतजार करती है | दोस्तों ऐसे लड़कियों के साथ सेक्स करते समय उस लड़की के योनि को चाटना चाहिए, लड़की के योनि को चाटने से लड़की के शरीर में उत्तेजना पैदा होती है और लड़की आसानी से आपका लिंग उसके अंदर लेने के लिए तैयार हो जाती है |

लड़की के योनि के दाने को चूसने से लड़की के मुंह में चिपचिपा पानी बाहर निकलता है, जिसके कारण लड़की के योनि में अपना लिंग डालते समय लड़कों को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं आती है |

लड़की के जी स्पॉट से लड़की को चरम सीमा कैसे मिलती है ?

लड़की को चरम सीमा कैसे मिलती है
लड़की को चरम सीमा कैसे मिलती है

हर महिला को लगता है कि लड़के ने उसके योनि को चाटना चाहिए, क्योंकि योनि को चाटने से लड़की की योनि काफी गर्म हो जाती है |

बहुत सारी लड़कियां ऐसी होती है जो आसानी से सेक्स करने के लिए राजी नहीं होती है, ऐसे वक्त लड़की के जी स्पॉट को चाटने से लड़की चरमसीमा तक पहुंच जाती है |

लड़की के शरीर की गतिविधि ऐसी होती है कि लड़की की योनि अगर एक बार चरमसीमा की तलाश में आती है तो लड़की खुद को संतुष्ट करने के लिए कुछ भी कर सकती है |

कई बार लड़कियां जल्दी संतुष्ट नहीं होती है, ऐसे वक्त लड़कों ने लड़की के योनि को गर्म करने के लिए लड़की को अपना लिंग मुंह में देना चाहिए और लड़की के योनि को लंबे देर तक चाटते रहना चाहिए जिससे लड़की आपको घंटो तक सेक्स सुख देगी |

जी स्पॉट से ऑर्गेज्म क्यों होता है ?

जी स्पॉट से ऑर्गेज्म
जी स्पॉट से ऑर्गेज्म

देखा जाए तो लड़की के शरीर में विभिन्न प्रकार के ऑर्गेज़म होते हैं, लेकिन लड़की के जी स्पॉट के जरिये लड़की को गर्म करना एक अलग अनुभव होता है |

जब लड़कियां पर्याप्त रूप से उत्तेजित नहीं हो पाती है तब लड़कियां अपनी योनि के अंदर उंगली डालकर खुद के शरीर को संतुष्ट करने की कोशिश करती है जिसे हम ऑर्गेजम कहते हैं |

बहुत सारी लड़कियां ऐसी होती है जो जी स्पॉट के जरिए खुद के शरीर को हमेशा संतुष्ट करने की कोशिश करते रहती है |

क्योंकि लड़की की योनि पर होने वाला जी स्पॉट लड़की के पूरे शरीर की गतिविधियां संतुलित करता है और लड़की को चरम सीमा तक पहुंचता है |

जी स्पॉट को स्पर्श करने से लड़की के योनि में संकुचन पैदा होती है, जिससे लड़की के शरीर में ब्लड सरकुलेशन बढ़ जाता है और लड़की सेक्स करने के लिए तैयार हो जाती है |

 

Leave a Reply