Home » दिमाग के उपाय » गुस्सा करने की आदत है ? आसान टिप्स से गुस्से को कंट्रोल करना सीखे

गुस्सा करने की आदत है ? आसान टिप्स से गुस्से को कंट्रोल करना सीखे

गुस्सा

दोस्तों आज हमारा मुद्दा है जल्दी गुस्सा करने की आदत है तो इसे कैसे दूर किया जाए ? दोस्तों गुस्सा यह दुनिया का सबसे पहला और अहम दुश्मन है । क्योंकि दुनिया में जो कुछ भी गलत हो रहा है। उसका कारण सिर्फ और सिर्फ गुस्सा है, अगर आपको भी गुस्सा आता है। तो आज ही रोक दे नहीं तो आगे चलते हुए इसके बहुत ही गलत और बुरे अंजाम आपको झेलने पड़ेंगे तो आइए बढ़ते हैं। आगे की ओर जानेंगे गुस्से के बारे में।

हमें जल्दी गुस्सा क्यों आता है ?

हमें जल्दी गुस्सा क्यों आता है
हमें जल्दी गुस्सा क्यों आता है

गुस्सा आने के दो ही मुख्य कारण है। अपने मन की बात पूरी ना होना और लालच से भरा हुआ इंसान का दिल।

दोस्तों अगर किसी इंसान की मनचाही बात पूरी ना हो या किसी ने उसकी बात टाल दी हो या कोई उसकी बात सुनने को तैयार ही ना हो। तो उस व्यक्ति को गुस्सा आता है, गुस्सा आना यह आम सी बातें है। जो हमारे शरीर की भावनाओं को जताता है। लेकिन गुस्से को किस हद तक रखना जरूरी है। किसी इंसान का दिल लालसा से भरा है। और उसकी लालच पूरी तरह नही होती है त।तो उसे गुस्सा आता है। और इंसान का लालच पुरा नहीं होता है तो वह बदले की भावना में हमेशा गुस्सा करता रहता है। तो यही कारण है गुस्सा आने का।

ज्यादा गुस्सा करने से क्या नुकसान होते हैं ?

ज्यादा गुस्सा करने के नुकसान
ज्यादा गुस्सा करने के नुकसान
  1. गुस्सा करने से ज़िन्दगी बर्बाद हो जति है।
  2. दोस्तो गुस्सा करने से शारीरिक तौर पर देखा जाए तो।
  3. ब्लड प्रेशर का बढ़ना, हार्टअटैक आना, माइग्रेन की समस्या, चक्कर आना और बॉडी में नेगेटिव एनर्जी निर्माण करना यह सारे नुकसान हो सकते हैं।
  4. गुस्सा करने से सामाजिक स्तर पर देखा जाए तो।
  5. किसी इंसान पर गुस्सा करने से वह इंसान उस इंसान से हमेशा के लिए संबंध तोड़ देता है। हमेशा गुस्सा करने वाला इंसान उस समाज के लिए दुश्मन बन जाता है। गुस्सा आने से इंसान अपनों का खून कर देता है।
  6. ज्यादा गुस्सा करने से अपने पारिवारिक जीवन को भी इंसान समाप्त कर देता है। या वह अपनी नौकरी से भी हाथ धो बैठता है। यह सारे नुकसान गुस्सा करने से होते हैं।
  7. गुस्सा करने से वैचारिक स्तर पर देखा जाए तो।
  8. ज्यादा गुस्सा करने से इंसान के दिमाग में नेगेटिव विचार आने लगते हैं। जिससे वह खुद खुशी कर लेता है।
  9. या ज्यादा गुस्सा आने से उसका स्वभाव अपने लोगों के प्रति खराब हो जाता है और वह उन्हें मारपीट करने लगता है।

गुस्सा नहीं आना चाहिए इसीलिए क्या करें ?

गुस्सा नहीं आना चाहिए
गुस्सा नहीं आना चाहिए
  1. गुस्सा नहीं आना चाहिए इसलिए अच्छा विचार करें और अच्छे लोगों के संगत में ही रहे।
  2.  अगर आपको गुस्सा आता हो तो शांत रहने का प्रयास करें।
  3. अगर आपको गुस्सा आता है और आप कंट्रोल करना नामुमकिन हो जाता है। तो आपने साइलेंट आवाज में गाने सुनने है जिससे आपका मूड अच्छा हो जाता है।
  4. अगर आपको ऐसा लगता है कि मुझे अब गुस्सा आ रहा है तो हंसने का प्रयास करें और यह आदत शरीर को डाल दे कि जब जब गुस्सा आए तब  जोर-जोर से हंसे।
  5. किसी व्यक्ति के बात करते वक्त गुस्सा आता है तो बातचीत तुरंत बंद करके कहीं बाहर निकल जाए और बाद में आकर शांति से बातचीत करें।
  6. गुस्से को कंट्रोल में रखने के लिए आप योगा मेडिटेशन भी कर सकते हैं जिससे आपका गुस्सा कम हो जाएगा।

बार-बार गुस्सा करने की आदत क्यों लगती है ?

बार-बार गुस्सा करने की आदत
बार-बार गुस्सा करने की आदत

दोस्तों बार-बार गुस्सा करने की आदत इसी वजह से लगती है कि आपको हर चीज अपने मुताबिक करनी होती है। जो कि हमेशा आप के मुताबिक नहीं होती यही एक मुख्य कारण है कि आपको बार-बार गुस्सा आता है। अगर आप आपका यह स्वभाव नहीं बदलते हो सो आप कभी भी गुस्से से आपका पीछा नहीं छुड़ा सकते।

गुस्से को काबू में केसे लाते हैं ?

गुस्से को काबू में केसे लाते हैं
गुस्से को काबू में केसे लाते हैं

 आपको गुस्सा काबू में लाना है तो आप किताबे पढ़ने की आदत डाल दे आपके खाली वक्त में किसी न किसी किताब को पढ़ते रहिए पढ़ने से आपको बहुत सारा ज्ञान प्राप्त होता रहता है। और उस ज्ञान के वजह से आपकी विचार शक्ति मैं भी बदलाव आने लगते हैं। जिससे आप गुस्सा कम करना शुरू देते हैं।

फिजूल और झूठी बातों में ध्यान देना बंद कर दे ऐसा करने से आप अपना गुस्सा  आसानी से कंट्रोल कर सकते हैं।

क्या माइंड को शांत रखकर गुस्सा कैसे कंट्रोल होता है ?

माइंड को शांत रखकर
माइंड को शांत रखकर

दोस्तों सबसे पहले तो आपको रोजाना मेडिटेशन करना है जिससे आपका माइंड शांत आसानी से होता है यदि आपको किसी चीज से गुस्सा आता है तो आप शांत दिमाग से उस क्रोध के कारण को अवॉइड कर सकते हो और अपने क्रोध को कंट्रोल में ला सकते हो।

अगर आपका दिमाग शांत है तो आपका दिमाग आपके शरीर को उस शांतिपूर्वक वातावरण की आर्डर देते रहता है जिससे आपका गुस्सा कम करने में सफल होते हो।

किसी बात से आपको गुस्सा आ रहा है तो उस बात को अवॉइड करते रहना सबसे बेस्ट तरीका होता है।

गुस्सा नहीं आना चाहिए इसलिए मेडिटेशन करना चाहिए :

गुस्सा नहीं आना चाहिए इसलिए मेडिटेशन
गुस्सा नहीं आना चाहिए इसलिए मेडिटेशन

गुस्सा ना आए इसलिए आप योगा और मेडिटेशन कर सकते है लेकिन हमारी मानो तो योगा से बेहतर मेडिटेशन रहेगा गुस्से को कंट्रोल करने के लिए।

बाद बार घुस्सा आने से रोकने के लिए मेडिटेशन कैसे करें ?

बाद बार घुस्सा आने से रोकने के लिए मेडिटेशन
बाद बार घुस्सा आने से रोकने के लिए मेडिटेशन

आपको रोजाना शांति से भरे जगह जाकर बैठना है और नाक से  बड़ी-बड़ी सांसें लेकर धीरे से छोड़े औरों ओम का उच्चारण करते रहना है। जिससे शरीर में एक वाइब्रेशन क्रिएट होता है वह आप के दिमाग को शांत रखता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!