वायरल फीवर बुखार का उपचार लक्षण

वायरल फीवर बुखार अकसर यह सुनने में आता है की वायरल फीवर या वायरल बुखार हुआ है| बरसात की मौसम में इसका प्रकोप बढ़ता है| लेकिन इसमे घबराने की जरुरत नहीं है, दवा से है ज्यादा सावधानी ही इसका उपाय है| वायरल फीवर का लक्षण: वायरल बुखार के लक्षन सामान्य की तरह ही होते है| … वायरल फीवर बुखार का उपचार लक्षण Read More »
 
वायरल फीवर बुखार का उपचार लक्षण

वायरल फीवर बुखार

वायरल फीवर का उपचार

अकर यह सुनने में आता है की वायरल फीवर या  वायरल बुखार हुआ है| बरसात की मौसम में इसका प्रकोप बढ़ता है| लेकिन इसमे घबराने की जरुरत नहीं है, दवा से है ज्यादा सावधानी ही इसका उपाय है|

वायरल फीवर का लक्षण:

वायरल बुखार के लक्षन सामान्य की तरह ही होते है| सीर में दर्द, बदन में दर्द के साथ अचानक बुखार चढ़ाना.

गले में खराश और खिचखिच , नाक व गले में खुजली होना और नाक से पानी गिरना इसके सामान्य लक्षण है|

डॉक्टर का मानना है की वायरल बुखार एक संक्रामक विषाणु के जरिए फैलता है|

यह विषाणु ऐसा है की स्वस्थ इंसान के शरीर में भी प्रवेश कर जाता है और एक दो दिन बाद बुखार होता है|

बाल झड़ने की दवा गंजापन इलाज उपाय हिंदी में.

वायरल फीवर होने के कारण:

डॉक्टर का मानना है की बुखार ठंडे वातावरण से गरम और गरम से ठंडे में जाने के कारण होता है|

फ्रीज़ या बर्फ का ठंडा पानी पिने से, ज्यादा ठंडे  पेय-पदार्थ का सेवन करने से, आइस्क्रीम  खाने के बाद गले में होने वाली खराश से इसकी शुरुवात होती है|

अचानक भीगने या भीगे कपडे पहने रखने से जुखाम की शिकायत होती है|

डेंगू के लक्षण घरेलु उपचार और बचने का तरीका.

वायरल फीवर का उपचार :

  • गरम पदार्थो का सेवन करना चाहिए|
  • तुलसी-पत्र तथा अदरक वाली चाय में लौंग, इलायची डालकर पिए इससे बहुत आराम मिलेगा|
  • पानी को गरम करके इसमे नमक डाले, इस पानी से बार बार गरारे करे|
  • रोगी को ताजा फल दे, परंतु  केला या संतरा ना दे|
  • तेज बुखार की स्थिति में रोगी के सीर पर ठंडे पानी की पट्टी रखे|
  • भोजन में हरी सब्जिया तथा हल्का और सुपाच्य खाना दे, परंतु भोजन पौष्टिक होना चाहिए|
  • गले की खराश मिटने के  लीये हलके गरम पानी में शहद मिलाकर धीरे धीरे पीते रहे|
  • सीरदर्द , बदन दर्द से राहत के लिए पैरासिटामोल गोली यानिकी टेबलेट ले सकते है|
  • बुखार के ठहरने या रोगी के ज्यादा परेशान होने की स्थिति में चिकित्सक को अवश्य दिखाए|

खांसी का घरेलु देसी उपचार हिंदी में.