लिंग की नसों में कमजोरी दूर करने वाले 5 आसान नुस्खे

, , 63 Comments

नमस्ते दोस्तों आज के इस लेख में हम आपको लिंग की नसों में कमजोरी कैसे दूर करें या फिर लिंग का ढीलापन कैसे दूर करें के बारे में आपको जानकारी देंगे। सच तो यह है कि आजकल यह समस्या बहुत से लोगों में दिखाई देने लगेगा और खासकर कि यह समस्या युवाओं में अधिकतर दिखाई देने लगी है। अगर आपका लिंग भी टाइट नहीं हो रहा है, तो आप लिंग टाइट करने के घरेलु उपाय आजमा कर अपने लिंग को कुछ ही मिनट में टाइट कर सकते हो |

सूचि देखे :

नसों की कमजोरी क्या होती है ?

नसों की कमजोरी
नसों की कमजोरी

देखा गया है कि बहुत सारे लोगों की नसों में काफी कमजोरी होती है, जिसके कारण उनके शरीर में काफी कमजोरी आ जाती है |

मनुष्य के शरीर की नसें जब गतिहीन हो जाती है तब मनुष्य को हमेशा कमजोरी महसूस होती है और वह भारी काम करने में असफल होते है |

नसों की कमजोरी के कारण मनुष्य के शरीर को और भी बीमारियां होने की संभावना होती है, कई बार यह बीमारी स्थाई भी हो सकती है जिसके कारण नसों में कमजोरी आने पर तुरंत उपाय इस्तेमाल करना जरूरी होता है |

बहुत सारे पुरुषों के नसों में कमजोरी आ जाती है, जिसका प्रभाव पुरुषों के सेक्स लाइफ पर होता है | बहुत सारे पुरुष लिंग के नसों में कमजोरी आने के कारण अपनी सेक्स लाइफ को खुश नहीं रख पाते हैं |

जिन पुरुषों को शरीर के नस से संबंधित किसी प्रकार का न्यान नहीं है उन पुरुषों ने इस बारे में पूरी जानकारी जानना काफी जरूरी होता है |

नसों की कमजोरी के कारण लिंग पर क्या प्रभाव पड़ता है ?

नसों की कमजोरी के कारण पुरुषों के लिंग में प्रभाव नहीं पड़ता है, जिसके कारण शरीर में उत्तेजना आने के बावजूद भी पुरुषों का शरीर सेक्स करने के लिए उत्तेजित नहीं होता है |

नसों की कमजोरी के कारण लिंग पर क्या प्रभाव
नसों की कमजोरी के कारण लिंग पर क्या प्रभाव

बहुत सारे पुरुष ऐसे होते हैं जो लिंग में किसी प्रकार की समस्या आने पर इस बात को नजरअंदाज करते हैं | दोस्तों लिंग के नसों में कमजोरी आने के बावजूद भी अगर आप इस बात को नजरअंदाज करोगे तो इससे आगे चलकर आपका लिंग काफी कमजोर बन जाएगा और आपके लिंग में उत्तेजना आना भी बंद हो जाएगा |

लिंग की नसों में कमजोरी आने के कारण कई बार शरीर में काफी कमजोरी आ जाती है, जिसके कारण पुरुषों के शरीर में टेस्टोस्टेरोन हार्मोन की निर्मिति होना रुक जाता है | ऐसे वक्त पुरुषों के शरीर का विकास होना पूरी तरह से रुक जाता है और पुरुष काफी कमजोर महसूस करने लगते हैं |

इसलिए लिंग में अगर कमजोरी महसूस होती है तो तुरंत किसी चिकित्सक की सलाह ले या लिंग के नसों में ढीलापन आने के कारण जानकर सही उपाय अपनाएं |

क्या नसों में कमजोरी आने से लिंग खड़ा होने में समस्या आती है ?

नसों में कमजोरी आने से लिंग खड़ा होने में समस्या
नसों में कमजोरी आने से लिंग खड़ा होने में समस्या
  • लिंग की नसों में अगर कमजोरी आती है तो लिंग खड़ा होने में समस्या आती है, लिंग खड़ा करने के लिए लिंग की नसें काफी महत्वपूर्ण योगदान देती है |
  • पुरुषों के शरीर में जब उत्तेजना आती है तब पुरुषों के शरीर में खून का प्रभाव बढ़ जाता है, जिसके कारण लिंग की नसें उत्तेजित होने लगती है | लेकिन लिंग की नसों में अगर कमजोरी रहती है तो लिंग उत्तेजित नहीं होता है और सेक्स करते समय लिंग खड़ा नहीं होता है |
  • लिंग की नसें पुरुषों का लिंग खड़ा करने के लिए सबसे महत्वपूर्ण कार्य करती है, जिसके कारण लिंग की नसें हमेशा मजबूत होना जरूरी होता है |
  • बहुत सारे पुरुष लिंग की नसों को मजबूत करने के तरीके घर पर ही इस्तेमाल करते हैं, दोस्तो आप घर पर भी बहुत सारे तरीके इस्तेमाल कर सकते हो | लेकिन अगर आप गुप्तांग के चिकित्सक से इस बारे में बात करते हो तो यह आपके सेक्स लाइफ के लिए और आपके गुप्तांग के लिए काफी अच्छा रहेगा |

लिंग की नसों में कमजोरी कैसे दूर करें :

लिंग नसों की कमजोरी कैसे दूर करे
लिंग नसों की कमजोरी कैसे दूर करे

युवाओं में यह समस्या अधिक दिखने के कारण यह है कि कुछ भी उल्टा-पुल्टा खा लेना या फिर फास्ट फूड का सेवन ज्यादा करना या फिर अपनी दिनचर्या खराब होना इत्यादि ऐसे बहुत से कारण है जिससे यह समस्या युवाओं में अधिक प्रमाण में दिखाई देने लगी है। अधिकतर यह समस्या तब होने लगती है जब हम ज्यादा ही तनाव ले लेते हैं।

कई बार मानसिक और शारीरिक कारण से पुरुषों को लिंग का ढीलापन या फिर लिंग की नसों में तनाव कम होने के कारण या फिर नसों में कमजोरी होने से लिंग टाइट ना होने की वजह से हम लव लाइफ एवं हमारी वैवाहिक जिंदगी ठीक से नहीं बिता पाते।

अगर यह समस्या ज्यादा हुई तो आगे चलकर नपुंसकता स्वप्नदोष एवं मर्दाना कमजोरी आ सकती है और इसी के कारण वैवाहिक जीवन में आगे चलकर बहुत सी परेशानियां होती है। तो आइए दोस्तों लिंग की नसों में कमजोरी कैसे दूर करें के बारे में जानते हैं।

लिंग में ढीलापन क्यों आता है :

ling ke naso me dhilapan kamjori
ling ke naso me dhilapan kamjori

Ling ki naso me kamjori ki vajah se ling ko khada karne me kai dikkat aati hai. Ling ke naso me blood circulation hone se hi ling sakht hota hai aur khada hota hai. Ling ko khada karna matlab ling ki naso me josh se blood circulation hona.

Bazar me kai davaiya avalibale hai dosto jis ke karan apke ling ke naso ka ilaj kar sakte ho. Aaj hum apko sikhayenge ling ki naso ka ilaj ayurvedic ya gharelu upchar se kaise kare.

लिंग की नसों की कमजोरी के लक्षण :

  • जिन पुरुषों के लिंग की नसों में कमजोरी होती है उन पुरुषों को अपने शरीर में हमेशा चुभन की भावना महसूस होती है |
  • कई बार इस बीमारी के कारण पुरुषों को चिंता या डिप्रेशन का भी सामना करना पड़ता है, ज्यादा डिप्रेशन में जाने से इसका गलत प्रभाव सेक्स जीवन पर होता है |
  • लिंग की नसों में कमजोरी आने के कारण पुरुषों के शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता नहीं रहती है, जिसके कारण बीमारियों से लड़ने की क्षमता पूरी तरह से कम हो जाती है |
  • शरीर में मांसपेशियों की कमजोरी और थकावट के कारण पुरुषों को हमेशा ऐसा लगता है कि उन्होंने कोई तो भी कष्ट वाला काम किया है |
  • जिसके कारण उन्हें हमेशा थकावट महसूस होती है और सेक्स करते समय वह कमजोरी महसूस करते हैं |
  • लिंग की नसों की कमजोरी के लक्षण जानने के बाद आपने सही उपाय अपनाना चाहिए |

लिंग में ढीलापन क्यों आता है ?

लिंग में ढीलापन
लिंग में ढीलापन
  • Jyada hastmaithun karne se yaniki ling ko jyada hilane se.
  • Bar bar ashlil yaniki por-n video dekhne se.
  • Depression yaniki tanav me hone ke karan ling ki naso me blood nahi jata.
  • Tanav ling ka chota hona ya ling me dhilapn lane ke liye main reason hai.
  • Partner ke sath Comfortable na hona.
  • ज्यादा रूप में मानसिक एवं शारीरिक तनाव होना।
  • कहीं लोगों को यहां जेनेटिक प्रॉब्लम भी होता है।
  • फास्ट फूड का ज्यादा सेवन करना।
  • धूम्रपान एवं नशीली पदार्थों का ज्यादा सेवन करना।

लिंग की नसो का घरेलू आयुर्वेदिक उपचार नुस्खे :

लिंग की नसो का घरेलू आयुर्वेदिक उपचार
लिंग की नसो का घरेलू आयुर्वेदिक उपचार
  • गिलोय : धात रोग या लिंग की नसो के इलाज के लिए मुक्ति प्राप्त करने के लिए 2 चम्मच गिलोय के रस के साथ 1 चम्मच शहद को मिक्स कर लेना चाहिए.
  • आंवले (आमला) : हर दिन सुबह खाली पेट दो चम्मच आंवले आमले के रस को शहद के साथ मिक्स कर के लें. इससे लिंग को खड़ा करने मे और सख़्त मोटा लंबा बनाने मे मदत करता है.
  • तुलसी (इंग्लीश मे बेसिल ): 3 या 4 ग्राम तुलसी के दाने यानिकी तुलसी के बीज़ के साथ थोड़ी सी मिश्री दोनों को साथ मे मिलाकर दोपहर के खाना खाने बाद ये खाने से जल्दी ही लाभ होता है.
  • मुसली : 10 ग्राम सफ़ेद मुसली के चूरन चूर्ण में मिश्री मिलाकर खाया जाए और उसके बाद ऊपर से लगभग 500 ग्राम गाय का दूध पिया जाए तो ये अत्यंत लाभ दाई होता है.
    इस उपाय के ईस्तमाल से शरीर मे लिंग को अंदरूनी शक्ति मिलती है.
  • उड़द की दाल (उड़द प्यूल्सस) : उड़द की दाल यानिकी की काली दाल् को पीसकर उसे भुन लिया जाए और खांड में मिलाकर खाएं तो भी जबरदस्त फ़ायदा ही मिलता है.

लिंग में टेढ़ापन आने पर लिंग की नसों में कमजोरी को कैसे दूर करें ?

लिंग में टेढ़ापन आने पर लिंग की नसों में कमजोरी
लिंग में टेढ़ापन आने पर लिंग की नसों में कमजोरी

लिंग के नसों की कमजोरी से बचने के लिए सबसे पहले पुरुषोने अपने शरीर को प्राकृतिक चीजों का सेवन करने की ही आदत लगा लेनी चाहिए |

अगर आप बाहरी बनावट वाली चीजों का हमेशा सेवन करते हो तो इससे आपके शरीर में ढीलापन आता है जिससे लिंग की नसे कमजोर होना शुरू हो जाता है |

पुरुषों ने रोजाना संतुलित आहार का सेवन करना चाहिए, आपके आहार में विटामिंस, प्रोटींस, कार्बोहाइड्रेट्स, यह सारे पोषक तत्व होना जरूरी होता है जिससे आपके पूरे शरीर का पोषण होगा और आपके शरीर की नसों में जो भी कमजोरी है वह धीरे धीरे कम होने लगेगी |

जिन पुरुषों के शरीर का किसी प्रकार का व्यायाम नहीं होता है उन पुरुषों के अंदर अक्सर इस समस्या का रूप काफी ज्यादा होता है | इसलिए पुरुषों ने रोजाना व्यायाम करना जरूरी है, व्यायाम करने से लिंग की नसों में ढीलापन नहीं रहता है |

लिंग की नसों में कमजोरी आने पर सबसे पहले नसों की कमजोरी का परीक्षण करना जरूरी होता है, लिंग की नसों का परीक्षण करने से आपको समझ में आता है कि लिंग के किस अंग पर कमजोरी है |

लिंग की नसों में कमजोरी होने के नुकसान :-

लिंग की नसों में कमजोरी होने के नुकसान
लिंग की नसों में कमजोरी होने के नुकसान
  • जिस व्यक्ति को यह कमजोरी होती है उसे भूत प्रमाण में मानसिक तनाव होता है।
  • वैवाहिक जीवन में अस्थिरता निर्माण होती है।
  • सेक्सुअल लाइफ में संतुष्टता नहीं होना।
  • अपने लाइफ पार्टनर को खुश ना रख पाना।

लिंग में खून का प्रभाव कैसे बढ़ाएं ?

लिंग में खून का प्रभाव कैसे बढ़ाएं
लिंग में खून का प्रभाव कैसे बढ़ाएं
  • जिन पुरुषों को व्यायाम करने की आदत नहीं होती है अक्सर उन पुरुषों के लिंग में काफी कमजोरी होती है, लिंग की नसों में कमजोरी क्यों होती है यह हर पुरुष ने जानना चाहिए |
  • जब तक पुरुषों के शरीर में सही तरीके का खून का प्रभाव नहीं होगा तब तक पुरुषों का शरीर कमजोर रहेगा | इसलिए पुरुषों ने अपने शरीर की रक्तअभिसरण क्रिया संतुलित रखना जरूरी होता है |
  • लिंग में खून का प्रभाव बढ़ाने के लिए पुरुषों ने रोजाना व्यायाम करना चाहिए, व्यायाम करने के साथ-साथ अगर आप दौड़ते हो, जॉगिंग करते हो, स्विमिंग करते हो, तो इससे आपके शरीर की नसें मजबूत होने लगेगी और आपके शरीर का स्टैमिना भी बढ़ेगा |
  • ह्रदय की हार्टबीट्स जितनी ज्यादा रहेगी उतना ब्लड सरकुलेशन आपके शरीर में तेजी से होगा | शरीर में रक्ताभिसरण क्रिया तेजी से होने से लिंग तक ज्यादा से ज्यादा खून का प्रभाव बढ़ता है जिससे लिंग से संबंधित सारी समस्या दूर हो जाती है |

लिंग की नसों में कमजोरी दूर करने के उपाय :-

लिंग की नसों में कमजोरी दूर करने के उपाय
लिंग की नसों में कमजोरी दूर करने के उपाय
  1. अगर आपके लिंग के नसों में कमजोरी है तो आपने रोज सोने से पहले गुनगुने दूध में शतावरी पाउडर का मिश्रण करके इसका सेवन करना चाहिए। रोजाना यह विधि करने से कुछ ही दिनों में आपके लिंग की नसों मे की कमजोरी दूर हो जाएगी।
  2. अपने रोजाना सरसों के तेल से अपने लिंग की 15 से 20 मिनट तक मालिश करनी चाहिए। रोजाना मालिश करने से आपके लिए में तनाव आता है। सरसों के तेल के साथ-साथ जैतून के तेल का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।
  3. लिंग की नसों को मजबूत करने से पहले आपने लिंग की मसल्स को मजबूत करना चाहिए। अगर आप अपने लिंग की मसल्स मजबूत करते हैं तो आप अपने पार्टनर के साथ संभोग करने का मजा ज्यादा देर तक उठा सकते हैं।
  4. प्याज इस समस्या के ऊपर बहुत ही प्रभावी उपाय है। अगर आप रोजाना प्याज के रस का सेवन करते हैं तो आप जल्दी ही इस समस्या से छुटकारा पा सकते हैं।
  5. लहसुन यह भी इस समस्या के ऊपर बहुत ही प्रभावशाली उपाय है। लहसुन का रोजाना सेवन करने से हमारे सभी यौन समस्या ठीक हो जाते है। ध्यान रखिए कि ज्यादा लहसुन का सेवन करना यह हमारे शरीर के लिए हानिकारक भी है।

महिलाओं की चूत योनि चाटने के फायदे

लिंग के नसों की कमजोरी को दूर करने के लिए क्या खाना चाहिए ?

नसों की कमजोरी को दूर करने के लिए क्या खाना
नसों की कमजोरी को दूर करने के लिए क्या खाना
  • यह सवाल काफी महत्वपूर्ण है, क्योंकि जब तक पुरुषों के लिंग का ठीक तरह से पोषण नहीं होगा तब तक लिंग की कमजोरी ठीक नहीं होगी |
  • लिंग को और लिंग के नसों को मजबूत करने के लिए पुरुषों ने अपने भोजन में विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन बी१२, कार्बोहाइड्रेट्स, प्रोटींस, यह सारे पोषक तत्व खाना चाहिए |
  • देखा गया है कि बहुत सारे पुरुष अपने भोजन में ज्यादा से ज्यादा राइस का सेवन करते हैं | ज्यादा मात्रा में फैट युक्त चीजों का सेवन करने से शरीर में चर्बी का प्रमाण बढ़ता है और लिंग की गतिविधियां काफी कमजोर हो जाती है |
  • पुरुषों ने अपने भोजन में अंजीर, दूध, अंडे, चिकन, मटन, इन चीजों का सेवन करना चाहिए | अगर आप मांसाहारी चीजों का सेवन नहीं करते हो तो रोजाना नाश्ते में ड्राई फ्रूट्स, दूध इन चीजों को खाना ही चाहिए |
  • अगर आप रोजाना एक वक्त हरी सब्जियों का और फलों का सेवन करते हो तो यह आपके सेक्स जीवन के लिए और सामान्य जीवन के लिए काफी लाभदायक होता है |

क्या पीने से नसों की कमजोरी दूर होती है ?

क्या पीने से नसों की कमजोरी
क्या पीने से नसों की कमजोरी
  • बहुत सारे पुरुष ऐसे होते हैं जिन्हें शराब पीने की आदत होती है, दोस्तों शराब पीने से आपके शरीर की सारी गतिविधियां बिगड़ने लगती है जिसके कारण शराब पीना बिल्कुल बंद कर दे |
  • अगर आप चाहते हो कि लिंग की नसों में या शरीर की नसों में किसी प्रकार की कमजोरी नहीं होना चाहिए तो आपने रोजाना सुबह उठने के बाद गुनगुने पानी के साथ नींबू का रस पीना चाहिए |
  • जिससे शरीर में एंटीऑक्सीडेंट की मात्रा बढ़ेगी और शरीर की नसें मजबूत होने लगेगी |
  • पुरुषों ने और महिलाओं ने अपने शरीर की सारी गतिविधियां संतुलित रखने के लिए रोजाना दूध पीना चाहिए | दूध पीने के साथ साथ अगर आप प्रोटीन शेक पीते हो तो यह आपके सेहत के लिए फायदेमंद होता है |
  • किसी दिन अगर आप उपवास रखते हो तो इस दिन आपने फलों का जूस पीना चाहिए, फलों का जूस पीने से मनुष्य के शरीर को आवश्यक सारे पोषक तत्व मिलते हैं जिससे सेक्स जीवन हमेशा हैप्पी रहता है |
  • जिन पुरुषों को हमेशा शराब पीने की और सिगरेट पीने की आदत होती है उन पुरुषों ने इस आदत को जल्द से जल्द छोड़ना चाहिए नहीं तो आपके शरीर में शिथिलता आ जाएगी और आप लंबी उम्र तक अपने पार्टनर के साथ संभोग सुख का आनंद नहीं ले सकोगे |

नसों की कमजोरी दूर करने का तेल के नाम :

नसों की कमजोरी दूर करने का तेल
नसों की कमजोरी दूर करने का तेल

देखा जाए तो नसों की कमजोरी को दूर करने के लिए सबसे पहले पुरुषों ने नसों की कमजोरी की जटिलताएं ध्यान में लेनी चाहिए |

कई बार लिंग में होने वाला ढीलापन अलग-अलग कारण से हो सकता है, ऐसे वक्त अगर आप लिंग की कमजोरी को दूर करने के लिए किसी तेल का इस्तेमाल करते हो तो आपका लिंग काफी मजबूत बन सकता है |

जिन लोगों को नसों की कमजोरी  की परेशानी होती है उन लोगों ने रोजाना अपने शरीर को और अपने गुप्तांगों को जैतून के तेल से मालिश करना चाहिए |

जैतून के तेल से शरीर की मालिश करने से शरीर में ब्लड सरकुलेशन का प्रभाव बढ़ता है जिससे शरीर की कमजोरी धीरे-धीरे दूर होने लगती है |

मसाज करने से हमारा शरीर बलवान बनने लगता है, जिससे नसे काफी मजबूत बनने लगती है, जिन पुरुषों को लंबे समय तक संभोग नहीं करते आता है उन पुरुषों ने रोजाना या हफ्ते में से दो तीन बार जैतून के तेल से या बादाम के तेल से लिंग की अच्छी तरह से मालिश करना चाहिए |

लिंग की नसों की कमजोरी दूर करने का योगा :

लिंग की नसों की कमजोरी दूर करने का योगा
लिंग की नसों की कमजोरी दूर करने का योगा

देखा जाए तो लिंग की नसों की कमजोरी को दूर करने के योग काफी सारे है, लेकिन यह सारे योग प्रकार इस्तेमाल करते समय हमेशा ध्यान रखें कि आपका शरीर हमेशा संतुलित रहना चाहिए |

जो पुरुष रोजाना भुजंगासन, गोमुखासन, उष्ट्रासन, अनुलोम विलोम, यह सारे योग प्रकार करते हैं उन पुरुषों की सेक्स लाइफ हमेशा हैप्पी रहती है |

लिंग की नसों को मजबूत करते समय जब आप योग करते हो तब सही वक्त का चयन करना जरूरी होता है | सही वक्त का चयन करने के साथ-साथ सही जगह पर योग साधना करें जिससे आपके शरीर पर सकारात्मक प्रभाव होगा और आपका शरीर काफी मजबूत बन जाएगा |

पुरुषों को हम बताना चाहते हैं कि लिंग की नसों को मजबूत करते समय जब आप योग का इस्तेमाल करते हो तब आपने रोजाना व्यायाम भी करना चाहिए, जिससे आपका पूरा शरीर संतुलित रहेगा और आपकी जिंदगी हमेशा खुश रहेगी |