पतंजलि यौवन चूर्ण के लाभ, नुकसान और उपयोग करने की विधि

, , 1 Comment

आज हम आपको पतंजलि यौवन चूर्ण की जानकारी बताने वाले हैं | हम देखते हैं कि बहुत सारे पुरुषों को और महिलाओं को शादी के बाद सेक्स जिंदगी खुशी से नहीं रखते आती है, जिसके कारण उनके जिंदगी में हमेशा दुख होता है | शादी के बाद शादीशुदा जिंदगी को खुश रखने के लिए सेक्स एक महत्वपूर्ण बात होती है, बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो सेक्स को हमेशा नजरअंदाज करते हैं |

मतलब उन्हें लगता है कि सेक्स कमजोरियों के कारण हमारे जिंदगी में किसी प्रकार का गलत प्रभाव नहीं पड़ेगा, लेकिन दोस्तों हम आपको बताना चाहते हैं कि जिन कपल्स के अंदर सेक्स जिंदगी खुश नहीं रहती है उन कपल्स में हमेशा झगड़े होते रहते हैं |

जिसके कारण शादीशुदा जिंदगी में काफी दरार आने लगती है और पुरुष और महिला एक दूसरे को नफरत करने लगते हैं | शादीशुदा जिंदगी में कपल्स एक दूसरे से नफरत करने लगते हैं तब वह दोनों एक दूसरे से बिल्कुल प्यार नहीं करते हैं | जिसके कारण वह किसी और से प्यार कर सकते हैं, इसलिए शादीशुदा जिंदगी को खुश रखने के लिए सेक्स जिंदगी को खुश रखना काफी जरूरी होता है |

इसलिए आज हम आपको पतंजलि यौवन चूर्ण के बारे में जानकारी बताने वाले हैं, पतंजलि यौवन चूर्ण अगर आप लेते हो तो आपकी सेक्स लाइफ हमेशा खुश रहेगी और आप आपके पार्टनर को पूरी तरह से संतुष्ट कर सकोगे |

पतंजलि यौवन चूर्ण यह एक आयुर्वेदिक औषधि है। इसे आयुर्वेद की जड़ी बूटियों से बनाया गया है। इस पतंजलि चूर्ण का सेवन करने से योग बनाता है और  बुढापा दूर होता है। पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करने से शुक्र धातु की वृद्धि होती है।

यह सेक्स से जुड़ी हुई समस्याओं को भी दूर करता है। पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करने से कमजोरी दूर होती है और वजन बढ़ता है। साथ ही इस से यूनिटी बढ़ती है और शरीर की विभिन्न रोगों से रक्षा करने में सहायता होती है।

पतंजलि यौवन चूर्ण क्या है ?

"<yoastmark

पतंजलि आयुर्वेद लिमिटेड कंपनी द्वारा पतंजलि यौवन चूर्ण बनाया जाता है, पतंजलि यौवन चूर्ण आयुर्वेदिक हर्बल दवाई से बनाई जाती है | जिन लोगों के अंदर सेक्स कमजोरीया होती है उन लोगों द्वारा पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन किया जाता है |

कुछ लोगों का कहना होता है कि सेक्स कमजोरीया आने के बाद ही पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करना चाहिए, दोस्तों ऐसा नहीं होता है | जिन लोगों के अंदर इम्यूनिटी पावर जैसी समस्या होती है वह लोग भी यौवन चूर्ण का सेवन आसानी से कर सकते हैं |

पतंजलि यौवन चूर्ण में ऐसे तत्व होते हैं जो हमारे शरीर को ताकत देने का काम करते हैं, पतंजलि चूर्ण में पलाश, सलाम, पांजा, सलाम मिश्री, अश्वगंधा इस तरीके के कुछ आयुर्वेदिक तत्व मिलाएं जाते है |

पतंजलि यौवन चूर्ण आसानी से किसी भी स्टोर पर उपलब्ध होने के कारण आप इस चूर्ण को आसानी से अपने जिंदगी में शामिल कर सकते हो और अपनी सेक्स लाइफ को नई दिशा दे सकते हो |

मार्केट में पतंजलि यौवन चूर्ण क्यों ज्यादा चलता है ?

पतंजलि यौवन चूर्ण काफी कपल्स द्वारा इस्तेमाल किया जाता है, क्योंकि इस दवाई के प्रयोग करने के बाद बहुत सारे मरीजों में बताया गया है कि पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करने से हमारी सेक्स लाइफ काफी मजबूत हो गई है |

पतंजलि यौवन चूर्ण प्राकृतिक तत्व को शामिल करके बनाया जाता है जिसके कारण इस चूर्ण का सेवन करने से हमारे शरीर पर किसी प्रकार का गलत प्रभाव नहीं पड़ता है | इसलिए हर कोई पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन आसानी से करता है |

इस भागती दौड़ती हुई दुनिया में बहुत सारे लोगों को सेक्स संबंधित समस्या होती है, जिसके कारण हर कोई अपनी सेक्स लाइफ को खुश रखने के लिए यौवन चूर्ण का सेवन करता है |

जिन लोगों के शरीर में इम्यूनिटी पावर कमजोर होती है और रोगप्रतिरोधक क्षमता भी कमजोर होती है वह लोग आसानी से यौवन चूर्ण का सेवन करते हुए हम देखते हैं |

वैसे देखा जाए तो इस यौवन चूर्ण की कीमत मार्किट में मिलने वाले चूर्ण की प्राइस से बहुत कम है, इसलिए कम कीमत में असरदार इलाज पाने के लिए इसका इस्तमाल अधिक मात्रा में किया जाता है |

अगर आप पतंजलि यौवन चूर्ण रोजाना सेवन करते हैं तो आपको नीचे दिए गए फायदे होंगे।

पतंजलि यौवन चूर्ण के फायदे क्या है ?

"<yoastmark

  • सेक्स संबंधित सारी समस्याओं पर बात करने के लिए पतंजलि यौवन चूर्ण काफी उत्कृष्ट माना जाता है |
  • जिन लोगों को यौन दुर्बलता, नपुसंकता, दस्त, खांसी, मासिक धर्म में समस्या इन जैसी बीमारियां होती है वह लोग आसानी से पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करते हैं |
  • बहुत सारे पुरुष ऐसे होते हैं जो अपने पार्टनर को लंबे समय तक संभोग सुख नहीं दे पाते हैं, ऐसे वक्त अगर पुरुष पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करते हैं तो पुरुषों के शरीर में आसानी से उत्तेजना आती है और पुरुष अपने पार्टनर को संभोग सुख देने के साथ साथ काफी मात्रा में संतुष्ट करते हैं |
  • बहुत सारी महिलाओं के अंदर मासिक धर्म जैसी समस्या देखी जाती है, जिन महिलाओं को समय पर मासिक धर्म आना, या मासिक धर्म कभी भी ना आना इन जैसी समस्या है उन महिलाओं ने किसी गाइनेकोलॉजिस्ट की सलाह लेकर पतंजलि यौवन चूर्ण खाना चाहिए जिससे महिलाओं के शरीर की सारी गतिविधियां संतुलित हो सकती है |
  • जिन लोगों में उच्च कोलेस्ट्रॉल का स्तर, पेट दर्द, जलन, दिल की परेशानी, उच्च रक्तचाप, जीवाणु संक्रमण, पेट दर्द, बवासीर, सर्दी, मानसिक विकार, इन जैसी बीमारियां देखी जाती है वह लोग पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन कर सकते हैं |
  • पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करने से यौवन बनाता है और शरीर को निरोगी रहने में सहायता होती है।
  • योवन चूर्ण रोग निरोधक क्षमता बढ़ाता है।
  • यह नसों और मांसपेशियों को ताकत देता है।
  • पतंजलि चूर्ण का सेवन करने से बल, धातु और वजन बढ़ता है।
  • यह कमजोरी दूर करता है और शरीर को सबल बनाता है।

पतंजलि यौवन चूर्ण के नुकसान क्या है ?

"<yoastmark

  • देखा जाए तो पतंजलि यौवन चूर्ण के कोई ज्यादा नुकसान नहीं है, लेकिन  किसी भी चूर्ण का सेवन करने से पहले या दवाई का सेवन करने से पहले हमने देख लेना चाहिए कि इस दवाई के कोई साइड इफेक्ट है क्या |
  • जो लोग काफी बूढ़े हैं वह लोग पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन नहीं कर सकते हैं, क्योंकि पतंजलि यौवन चूर्ण काफी अलग तरीके से बनाया जाता है | जिसके कारण ज्यादा उम्र में इस चूर्ण का सेवन करने से हमारे शरीर को कोई ना कोई परेशानी हो सकती है |
  • बहुत सारे लोग ऐसे होते हैं जो बिना किसी डॉक्टर की सलाह लेकर पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करना शुरू कर देते हैं | दोस्तों अगर आप डॉक्टर की सलाह से पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करोगे तो इससे आपके शरीर को किसी प्रकार के साइड इफेक्ट नहीं दिखेंगे और आप आसानी से इस चूर्ण को अपने जिंदगी में शामिल कर सकोगे |
  • जिन लोगों को मधुमेह, उच्च रक्तचाप, गले ग्रंथि के विकार, गुर्दे की बीमारी, इन जैसे विकार होते हैं वह लोग पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन ना करें | क्योंकि इन बीमारियों के चलते हुए पतंजलि यौवन चूर्ण सही तरीके से प्रभाव नहीं कर सकेगा |

पतंजलि योवन चूर्ण चिकित्सा इस्तेमाल :

पतंजलि योवन चूर्ण चिकित्सा इस्तेमाल
पतंजलि योवन चूर्ण चिकित्सा इस्तेमाल
  • अगर आपको कमजोरी है, तो पतंजलि चूर्ण का उपयोग कीजिए।
  • जिस इंसान में इम्यूनिटी कम है उसे पतंजलि योवन चूर्ण का सेवन करना चाहिए।
  • अगर आपका वजन नहीं बढ़ रहा हो तो पतंजलि चूर्ण का सेवन करें। इससे आपको वजन बढ़ाने में सहायता होगी।

पतंजलि यौवन चूर्ण इस्तेमाल करने का तरीका :

  1. आमतौर पर देखा जाए तो पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन रात को सोने से पहले करना चाहिए, जो लोग अपने पार्टनर के साथ सेक्स करना चाहते हैं उन्होंने सेक्स करने से पहले एक घंटा इस चूर्ण का सेवन करना चाहिए |
  2. यदि आप इस यौवन चूर्ण का सेवन गुनगुने दूध के साथ करना काफी फायदेमंद होता है, गुनगुने दूध में शरीर में उत्तेजना लाने की ताकत होती है जिसके कारण शरीर में उत्तेजना आने के साथ साथ आपका शरीर घंटो तक सेक्स करने के लिए तैयार हो जाता है |
  3. अगर आपके शरीर में किसी प्रकार की बीमारी है तो आप पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन डॉक्टर की सलाह से कर सकते हो |
  4. देखा जाए तो पतंजलि यौवन चूर्ण के कोई साइड इफेक्ट नहीं है, लेकिन किसी भी दवाई का सेवन करने से पहले हम डॉक्टर की सलाह लेते हैं तो इससे हमारा शरीर हमेशा स्वस्थ रहता है |
  5. पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन खाना खाने के बाद ही करें, कई बार खाना खाते हुए बहुत सारे लोग पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन कर लेते हैं | ऐसा करने से आपके शरीर पर इसका गलत परिणाम होना तय होता है |

पतंजलि योवन चूर्ण का सेवन कैसे करें और कितनी मात्रा में करें-

  • आप पतंजलि योवन चूर्ण दूध के साथ ले सकते हो।
  • इसे आप दूध में एक से आधा चम्मच दिन में दो बार सुबह और शाम लें।
  • जिन्हें मधुमेह, अधिक वजन की शिकायत हो वह लोग पतंजलि चूर्ण का सेवन ना करें।
  • डॉक्टर द्वारा बताए गए मात्रा में ले सकते हो।

यह चूर्ण सभी आयुर्वेदिक दुकानों पर उपलब्ध है।

कितने दिनों तक पतंजलि यौवन चूर्ण का इस्तेमाल करना चाहिए ?

"<yoastmark

  1. देखा जाए तो हर किसी के शरीर में अलग अलग प्रकार के सेक्स गतिविधि की समस्या होती है, कुछ पुरुष लंबे समय तक सेक्स नहीं कर पाते हैं तो कुछ पुरुष अपने आपको सेक्स करने के लिए उत्तेजित नहीं कर पाते हैं |
  2. इन जैसी अलग अलग समस्या होने के कारण पतंजलि यौवन चूर्ण का इस्तेमाल करना हर किसी ने सीख लेना चाहिए |
  3. पतंजलि का यौवन चूर्ण का सेवन करते हो तब आपके शरीर को अगर राहत मिलती है और आपका शरीर सेक्स गतिविधि को संतुलित कर देता है तो वहां से पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन डॉक्टर की सलाह से ही करना चाहिए | कई बार हमारा शरीर संतुलित हो जाता है, लेकिन फिर भी हम पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करते रहते हैं ऐसा करने से इसका गलत परिणाम हमारे शरीर पर हो सकता है |
  4. कई बार डॉक्टर की ट्रीटमेंट लेने पर डॉक्टर २ हफ्ते की ट्रीटमेंट हमें देता है, इस ट्रीटमेंट के दौरान सही जानकारी लेकर पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करना चाहिए |
  5. जिससे आपके शरीर पर किसी प्रकार का गलत परिणाम नहीं होगा और आप अपने सेक्स लाइफ को बेहतर तरीके से जी सकोगे |

पतंजलि अश्वशिला कैप्सूल के फायदे

प्रेगनेंसी के दौरान पतंजलि यौवन चूर्ण लेना चाहिए क्या ?

"प्रेगनेंसी

जी नहीं प्रेगनेंसी के दौरान पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करना बिल्कुल उचित नहीं है, प्रेगनेंसी के दौरान महिला अगर पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करती है तो इससे महिला के शरीर पर और महिला के पेट में पल रहे बच्चे के शरीर पर इसका गलत परिणाम हो सकता है |

प्रेगनेंसी में महिला के शरीर में विभिन्न प्रकार के बदलाव होते रहते हैं. इन सारे बदलाव को देखते हुए प्रेगनेंसी में यौवन चूर्ण का सेवन करना बिल्कुल उचित नहीं है |

प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में पहले से ही सेक्स करने की उत्तेजना निर्माण होते रहती है, लेकिन इस दौरान अगर महिला पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करती है तो इससे महिला के शरीर में काफी मात्रा में सेक्स उत्तेजना बढ़ेगी और महिला सेक्स करने के अंतिम इच्छा को चाहने लगेगी जिससे शरीर की गतिविधियां बिगड़ सकती है |

कई बार गर्भावस्था में पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करने से महिलाओं के बच्चे पर इसका गलत प्रभाव हो सकता है, ऐसे वक्त महिला और महिला का शरीर बिल्कुल भी  संतुलित नहीं रहता है इसलिए प्रेगनेंसी में पतंजलि यौवन चूर्ण बिल्कुल ना खाएं |

वीर्य बढ़ाने के घरेलु उपाय हिंदी में

पतंजलि यौवन चूर्ण इस्तेमाल करने की विधि :

"<yoastmark

  1. सबसे पहले गुनगुने दूध के साथ पतंजलि यौवन चूर्ण मिलाकर इस दूध को अच्छी तरह से मिला ले |
  2. इस दूध में अगर आप इलायची या अदरक का इस्तेमाल करते हो तो काफी अच्छा है, क्योंकि इन चीजों का सेवन दूध के साथ करने से आपको दूध की अच्छी टेस्ट मिलेगी और आप हमेशा पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन करना पसंद करोगे |
  3. बहुत सारे लोगों को इस यौवन चूर्ण की टेस्ट अच्छी नहीं लगती है, ऐसे वक्त अगर आप इस मिश्रण में किसी भी अन्य चीजों का इस्तेमाल करते हो तो अच्छा है |
  4. दोस्तों हमेशा ध्यान रखें कि पतंजलि यौवन चूर्ण का सेवन जब आप गुनगुने दूध के साथ करते हो तब इस दूध में बिल्कुल भी शक्कर का इस्तेमाल ना करें |
  5. इस यौवन चूर्ण का इस्तेमाल रात को सोने से पहले करना चाहिए, जिससे रात के अंदर ही आपके शरीर में उत्तेजना पैदा होगी और आपका शरीर सेक्स करने के लिए काफी उत्तेजित हो जाएगा |

शादी के बाद यौवन चूर्ण क्यो फायदेमंद हैं ?

शादी के बाद यौवन चूर्ण
शादी के बाद यौवन चूर्ण
  • इस आधुनिक दुनिया में बहुत सारे लोग शादी होने के बाद भी एक दूसरे को खुश नहीं रख पाते हैं, जिसके कारण शादीशुदा जिंदगी को खुश रखने के लिए यौवन चूर्ण फायदेमंद होता है |
  • बाजार में बहुत सारे प्रकार के यौन चूर्ण मिलते हैं, लेकिन यह सारे यौवन चूर्ण इस्तेमाल करने से पहले अपने शरीर की जांच करवा ले | हर किसी का शरीर अलग अलग होता है, यौवन चूर्ण का सेवन करने से अगर आपको सचमुच फायदा महसूस होता है तो आप आसानी से यौवन चूर्ण का सेवन कर सकते हो |
  • शादी के बाद हर कोई अपने अपने कामों में हमेशा व्यस्त होते है, जिसके कारण कोई भी कपल अपने पार्टनर को पूरी तरह से वक्त नहीं दे पाता है |
  • ऐसे वक्त अगर आप यौवन चूर्ण का इस्तेमाल अपने सेक्स जिंदगी में करते हो तो आप आसानी से अपने अपने पार्टनर को सेक्स संतुष्टि दे सकोगे और खुद को ताकतवर समझ सकोगे |
 

One Response

Leave a Reply