बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में

बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में हर कपल को लगता है कि उन्हें कुछ संतान हो | लेकिन कुछ मां और बाप ऐसे होते हैं कि वह ५० साल के हो जाते हैं तब भी उन्हें बच्चा हो नहीं सकता क्योंकि इसमें हमने बहुत सारी गलतियां की होती है जैसे कि कई बार बच्चा … बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में Read More »
 
बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में

बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में

बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में
बच्चा पैदा करने का तरीका

हर कपल को लगता है कि उन्हें कुछ संतान हो | लेकिन कुछ मां और बाप ऐसे होते हैं कि वह ५० साल के हो जाते हैं तब भी उन्हें बच्चा हो नहीं सकता क्योंकि इसमें हमने बहुत सारी गलतियां की होती है जैसे कि कई बार बच्चा पैदा ना होने का कारण पुरुष भी हो सकता है और कई बार मां भी | लेकिन यह होने पर आपने घबराना नहीं चाहिए | अब हम बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में के तरीके देखेंगे |

बच्चा पैदा करने का तरीका :

आज के मॉर्डन जमाने मैं महिलाएं पुरुषों से कम नहीं है। महिलाये पुरुषों से किसी भी बात में कभी कम नहीं रही है। चाहे फिर वह पढ़ाई हो या फिर नौकरियां हो सभी प्रकार में महिलाएं पुरुषों के आज बराबर है। आज के आधुनिक जमाने में लड़का लड़की भेद अब बहुत प्रमाण में कम हो चुका है। फिर भी आज ज्यादातर लोग लड़का होने की धारणा रखते हैं। उनकी इच्छा होती है कि हमें लड़का पैदा हो। और फिर पुत्र प्राप्ति के लिए वह बहुत से प्रयोग करते हैं। और इनका फायदा बहुत से भोंदू बाबा उठाते हैं और इन्हें अच्छे से लूटते हैं। हालांकि कई लोगों की चाहत होती है कि उन्हें पुत्र प्राप्ति हो। आज हम आपको पुत्र प्राप्त करने के तरीके बताएंगे लेकिन इससे पुत्र प्राप्ति ही होगी इसकी कोई गारंटी नहीं लेकिन यह उपाय करने में कोई दिक्कत नहीं है। तो दोस्तों आज इस लेख में हम आपको बच्चा पैदा करने के तरीके बताएंगे।

बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में :

  1. लड़की को जब संतान चाहिए होता है तब पीरियड शुरू होने वाले दिन से उसके बाद ४ थी रात से तो १६  रात तक मैं सेक्स करने से लड़की के अंदर गर्भ ठहरने की संभावना बहुत ज्यादा बढ़ जाती है | लेकिन कई बार कुछ महिलाओं के बारे में ऐसा होता है कि बार बार कोशिश करने के बाद भी उनका गर्भ ठहर नहीं पाता है | ऐसे में आपके गर्भाशय में कोई समस्या जरूर हो सकती है |
  2. दो कपल्स की जब शादी हो जाती है तब उन्होंने अगर सेक्स किया तो तुरंत ही गर्भ ठहरने की संभावना सबसे ज्यादा होती है | इसलिए हम अक्सर देखते हैं कि शादी के १ साल बाद कपल को संतान हो जाती है |
  3. हमें संतान अगर चाहिए है तो महिला की उम्र जब ३० साल से कम होती है तब गर्भ ठहरने में कोई ज्यादा दिक्कत नहीं होती है | लेकिन कई महिलाएं ऐसी होती है जिन्हें किस उम्र के बाद भी संतान चाहिए  होती है | लेकिन महिला की उम्र ३६ साल के आगे जब चली जाती है तब गर्भ ठहरना बहुत ही मुश्किल हो जाता है | इसलिए इस उम्र से पहले ही संतान प्राप्त होना बहुत ही आसान होता हें |
  4. पीरियड आने से १२ से १६ दिन पहले की अवधि को ओवुलेशन पीरियड कहते हैं | इसलिए अक्सर डॉक्टर भी सलाह देते हैं कि ओवुलेशन पीरियड में सेक्स करें, क्योंकि ओवुलेशन पीरियड में सेक्स किया तो गर्भ ठहरने की संभावना बहुत ज्यादा हो जाती हें |
  5. जब हमें संतान चाहिए होती है तब सेक्स करते समय कंडोम का प्रयोग ना करें क्योंकि लुब्रिकेंट्स के उपयोग से गर्भ नहीं ठहरता हें |
  6. सेक्स करने के बाद योनि को तुरंत ही ना साफ करें | योनि को सुबह ही साफ करें क्योंकि योनि को साफ करने से स्पर्म योनी से बाहर निकल सकते हैं | इस तरह गर्भ ठहरने से महिला गर्भवती हो जाती है और महिला के पेट में ९ महीनों तक यह गर्भ बढ़ता है और ९ महीने के बाद यह बच्चा पैदा होता है |

         यह हें बच्चा पैदा करने का तरीका हिंदी में |

गर्भ में बच्चा पैदा होने की प्रक्रिया :-

विज्ञान के अनुसार पुरुषों के दो प्रकार के शुक्राणु होते हैं। इन दो शुक्राणु में से पता चलता है कि आप को पुत्र प्राप्ति होगी या पुत्री प्राप्ति। पुरुषों के 2 शुक्राणु होते हैं इनमें से एक होता है X क्रोमोजोम और दूसरा होता है Y क्रोमोसोम। जब महिला के अंडे के संपर्क में य क्रोमोजोम आता है तब उन्हें पुत्र प्राप्ति होती है।

गर्भ में बच्चा होने के लक्षण :-

  • अगर आपके गर्भ में बेटा है तो गर्भवती महिला के दाएं तरफ के स्तन बड़े स्तन से बढ़ जाता है।
  • अगर आपके बाल तेजी से बढ़ रहे हैं और हेयर फॉल की समस्या भी कम हो चुकी है तो आपके गर्भ को में पुत्र हो सकता है।
  • अगर गर्भवती महिला की पेशाब गाढ़े रंग की निकल रही है तो समझ लीजिए कि आपके पेट में लड़का है।
  • अगर गर्भधारणा के वक्त आपका वजन तेजी से बढ़ रहा है तो यह भी इसका एक लक्षण है।

बच्चा पैदा करने के उपाय :-

  1. बुजुर्गों से यह माना जाता है कि महावरी आने के बात चौथा 6, 8, 10, 12, 14 और 16 दिन गर्भधारणा के लिए उपयुक्त होता है। अगर इस दिन गर्भधारणा होती है तो आपको पुत्र प्राप्ति हो सकती है।
  2. सूरजमुखी के बीज खाना यह एक प्रभावकारी तरीका माना जाता है। सूरजमुखी के बीज खाने से आपको पुत्र प्राप्ति हो सकती है। इस बीच में विटामिन बहुत ब्रह्मांड में होता है जो कि हमारे स्पर्म काउंट बढ़ाने के साथ-साथ लड़का बनाने वाले शुक्राणु भी बनाता है। सूरजमुखी के बीज को रोजाना बादाम दही या फिर जामुन के साथ आप खा सकते हैं।
  3. कैलाबश यह एक फल है जिसका सेवन करने से आप पुत्र प्राप्ति प्राप्त कर सकते हैं। यह फल को रोजाना 60 से 70 ग्राम 3-4 महीने खाने से आपको पुत्र प्राप्ति हो सकती है। यह फूल का स्वाद अच्छा ना हो तो उसके साथ आप मीठा मिलाकर खा सकते है।
गर्भावस्था के दौरान कैसे बैठना चाहिए और कैसे सोना चाहिए
गर्भावस्था के बाद स्ट्रेच मार्क्स यानी की त्वचा पर निशान
महिला प्रेग्नेंट कैसे होती है हिंदी में जानकारी
प्रेगनेंसी के बाद महिलाओं के बॉडी में क्या बदलाव आते हैं ?