Home » फायदे और नुकसान » तुलसी के फायदे बीज के गुण हिंदी में जानकारी

तुलसी के फायदे बीज के गुण हिंदी में जानकारी

तुलसी के फायदे

तुलसी के फायदे बीज के गुण

तुलसी के फायदे
तुलसी के फायदेtulsi plant in hindi

तुलसी का पौधे को महत्वपूर्ण माना जाता है | तुलसी का महत्व पौरानिक काल से चला आ रहा है | इसके पत्ते पूजा-अर्चना में भी काम आते है| तुलसी को इंग्लिश में holi basil कहते है और मराठी में तुळस व तुळशी कहते है|

यह वातावरण को शुद्ध रखता है | कहते है की जिस आँगन में तुलसी का पौधा होता है वहा सर्प, किट-पतंगे नही आते है | तुलसी के आसपास की मिटटी भी पौधे करे समान ही पवित्र और औषधि योग्य मानी जाती है | वैसे तुलसी पांच प्रकार की होती है , लेकिन मुख्य रूप से दो प्रकार की तुलसी ही मिलती है -काली और सफेद |

तुलसी का उपयोग :

तो जानते है तुलसी के फायदे क्या है और आप तुलसी के गुण से आयुर्वेदिक इलाज करवा सकते हो –

बेहोशी :

तुलसी के पत्तो का रस में नमक मिलाकर २-4 बूंद नाक में टपकाने से बेहोशी में लाभ होता है |

दस्त :

तुलसी के पंचांग काढ़ा पीने से दस्तो में आराम मिलता है |

गले का दर्द :

तुलसी का रस में शहद मिलाकर चाटने से गले के दर्द में लाभ होता है |

चेहरे पर निखार :

काली तुलसी के पत्ते चबाकर खाने से चेहरे पर निखार आता है |

सफेद दाग :

काली तुलसी के पत्ते रगड़ने से से सफेद दाग ठीक हो जाते है |

घाव में कीड़े :

तुलसी के पत्ते का रस घाव पर लगाने से घाव के कीड़े मर जाते है |

नकसीर :

तुलसी के ताजे मंजीर बार-बार सूंघने से नकसीर ठीक हो जाता है |

खाँसी :

तुलसी के पत्ते के रस में शहद मिलाकर चाटने से सुखी और कफ वाली खाँसी ठीक होती है |

फोड़ :

तुलसी के ताजे पत्ते पीसकर फोड़ पर बांधने से लाभ होता है |

झाई :

तुलसी के पत्ते का रस और नींबू का रस मिलाकर चेहरे पर लगाने से चेहरे के दाग-धब्बे व झाईया दूर होते है |

पेट दर्द :

तुलसी और अदरक का रस १-१ चम्मच मिलाकर दिन में 3 बार पीने से पेटदर्द ठीक हो जाता है |

प्रदर रोग :

तुलसी के रस में जीरा पीसकर दूध के साथ सेवन करने से प्रदर रोग ठीक होता है |

सिरदर्द :

गर्मी में होने वाली सिरदर्द में तुलसी के पत्तों का रस , कपूर व चंदन पत्थर पर घिसकर माथे पर लेप लगाने से सिरदर्द दूर होता है |

बच्चो के रोग :

तुलसी के पत्ते का रस माँ के दूध के साथ चाटने से बच्चों के दस्त , ज्वर , दूध उलटना आदि रोग दूर हो जाते है |

जुकाम :

तुलसी के पत्तो का रस पीने से जुकाम मिटता है |

हिचकी :

छोटे बच्चो को हिचकी आने पर तुलसी के पत्ते की बिंदी माथे पर लगाने से हिचकी रुक जाती है |

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!