Home » वास्तु शास्त्र टिप्स » वास्तु दोष निवारण के उपाय क्या है ? जानिए कैसे करे इस वास्तु के दोष को दूर

वास्तु दोष निवारण के उपाय क्या है ? जानिए कैसे करे इस वास्तु के दोष को दूर

वास्तु दोष निवारण के उपाय

नमस्कार दोस्तों स्वागत है आपका हमारे इस पेज आज का हमारा टॉपिक है, वास्तु दोष निवारण के उपाय कैसे करें जो कि आज के जमाने की पीढ़ी को किसी भी प्रकार की जानकारी इन समस्याओं के बारे में बिल्कुल भी नहीं है। जैसे कि घर में वास्तु दोष को ना जाने क्या, किन कारणों की वजह से वास्तु दोष निवारण के उपाय करना चाहिए। आज के न्यू स्टाइलिश पीढ़ी को इसके बारे में कुछ पता नहीं है। और वह लोग इन समस्याओं का हल निकालने के लिए डॉक्टरों के चक्कर काटते रहते हैं। जो भी उन्हें किसी भी प्रकार से फायदेमंद साबित नहीं होते आइए जानते हैं, क्या होती है वास्तु दोष?

वास्तु दोष क्या होता है ?

"<yoastmark

दोस्तों वास्तु दोष याने किसी भी वस्तु में किसी प्रकार का दोष होना। मान लो आप एक घर में रहते हो, या आपके पास एक गाड़ी है, या आप का ऑफिस है। यह एक वस्तु है, जिसमें आप रहते हो या उसका इस्तेमाल करते हो जैसे कि आपकी गाड़ी अगर सही ढंग से नहीं बनती है। तो वह चलने लायक होती है या नहीं होती यह आपको चलाने के बाद तुरंत पता चल जाता है। और आप उसके दोष निवारण के लिए एक मैकेनिक की मदद लेते हो जिससे उस वस्तु में से दोष निकलकर आप उसी गाड़ी को अच्छी तरह चला सकते हैं। वैसे ही घर के बारे में है।

घर के बारे में देखा जाए तो आपको एक नया और अच्छा मकान बनवाना है। या बन चुका है, आप उसमें रह रहे हो मगर उस जगह पर वह वास्तु सही तरह नहीं बनाया हो तो उस वास्तु में दोष आते हैं। जैसे कि घर का आकार टेढ़ा हो जाना, या घर में कोना रह जाना, या घर की छत टेढ़ी बनानां, घर की सीढ़ियां ऊंची नीची बनवाना इससे उस वास्तु में अनदेखी बुरी शक्तियों का प्रवेश होता है।

किसी वास्तु में अनदेखी बुरी शक्ति और अच्छी शक्तियां याने क्या ?

वस्तु में अनदेखी बुरी शक्ति
वस्तु में अनदेखी बुरी शक्ति

दोस्तों आपने मंदिर मस्जिद यह तो देखा ही होगा यह अच्छी शक्ति योका प्रेरणा स्थान होता है। यह आप सभी को पता है। क्योंकि यहां की वास्तु में किसी भी प्रकार का दोष नहीं होता है। इसीलिए यहां भगवान की अच्छी शक्तियों का निर्माण हमेशा होता रहता है। तो इन सभी शक्तियों को हम अच्छी शक्तियां मानते हैं।

दूसरी अनदेखी शक्ति याने बुरी अनदेखी शक्ति है, जो कि आपको किसी भूत बंगले में, या शमशान में दिखाई देती है। जहां पर उनकी वास्तु का और उनका किसी भी प्रकार से अच्छे तरीके से मिलाओ नहीं रहता है। ना ही वास्तु का और ना ही उनमें रहने वाली शक्तियों का।

यही कारण है। कि अगर हमारा घर अच्छे और सही ढंग से बनाया नहीं होगा। तो उनमें अनदेखी बुरी शक्ति का निर्माण होता है। और उसी से हमारी पारिवारिक जीवन में बहुत अधिक मात्रा में बाधा आने लगती है।

घर में वास्तु दोष क्यों होता है ?

"घर

दोस्तों घर में वास्तु दोष उसके ढांचे को सही ढंग से अगर नहीं बनाया गया है। तो उस कारण हो सकता है।

जैसे कि घर को पूरी तरह अच्छे से ना बनाया हो उसमें कहीं ना कहीं किसी जगह पर कोने जैसा आकार दे दिया गया हो या उसकी छत टेढ़ी बना दी गई हो और तो और उसकी सीढिया कम हो अगर आपका घर जमीन पर लग कर ही है। तो आपके घर को कम से कम दो या चार सीढिया होनी चाहिए। घर में बसाये गए भगवानों के फोटो गलत दिशा में लगा दिए गए हो तो यह भी एक वास्तु दोष का कारण है। घर की साफ सफाई अगर अच्छी तरीके से ना हो तो वास्तु दोष होने लगता है। हमेशा घर के चारों और अच्छी तरीके से साफ सफाई और दिन में से 2 बार दिए जलाते रहना चाहिए जिससे रोशनी की प्रसन्नता होती है। अगर आप यह नहीं करते हो तो आपके घर में वास्तु दोष होता है।

घर में वास्तु दोष के कारण क्या होते हैं?

"घर

  • घर में वास्तु दोष होने का यह एक मुख्य कारण है। कि घर का ढांचा सही ढंग से बनाया ना हो।
  • या घर किसी शमशान भूमि पर बनाया गया हो।
  • घर बनाते वक्त उसकी किसी भी तरह की पूजा ना की गई हो तो वास्तु में दोष होता है।
  • घर में भगवान की पूजा अगर गलत दिशा में बैठकर की जाती है, तो उसी से भी वास्तु का दोष होता है।
  • घर में भगवान की पूजा पाठ यह ना करना यह भी वास्तु में दोष का कारण होता है।
  • घर के दीवारों पर खूंखार जंगली प्राणियों की तस्वीर लगाने से घर में हमेशा क्लेश और झगड़ालू वातावरण होता है।
  • घर के बाहर आंगन में किसी कांटे वाले पेड़ को उगाना यह भी घर के लिए वास्तु दोष का कारण बनता है।
  • घर की वास्तु पूजा ना करना।
  • घर के दरवाजे उल्टी दिशा में खुलना या बंद होना या वह अपने आप ही खुले या बंद हो जाना।

घर में वास्तु दोष ना होने के लिए क्या करें ?

"<yoastmark

वास्तु दोष ना होने के लिए सबसे पहले तो अपने घर को सही ढंग से बनवाना है। उसके बाद घर बनवाने से पहले और घर बनवाने के बाद घर की वास्तु पूजा करनी है। अगर आप वास्तु पूजा नहीं कर सकते हैं, तो एक छोटा सा सत्यनारायण की पूजा करके आप आपके घर के वास्तु के दोष दूर कर सकते हैं।

  1. घर में किसी भी प्रकार के खूंखार जंगली प्राणियों के तस्वीर या पुतले ना रखें जिससे घर में शांति बनी रहती है।
  2. किसी भी शमशान भूमि पर या शमशान भूमि के बगल में घर को ना बनाएं और ना ही ऐसे घरों में रहे।
  3. रोज घर में गंगाजल चारों ओर डाले जिससे घर हमेशा पवित्र रहता है।
  4. रोजाना भगवान की पूजा करें और पूजा के बाद भगवान के सामने जलाए गए दिए को घर के सारे कमरों में घूमाये जिससे अग्नि की रोशनी हर रूम में फैलती है। और उस जगह पर पवित्रता आने लगती है, और अनदेखी बुरी शक्तियों का विनाश होने लगता है।
  5. घर के सामने आंगन के बीचो-बीच तुलसी का पेड़ लगाए और उसकी रोजाना पूजा करें।
  6. अगर घर टेढ़ा बनाया हो तो उसे तुरंत ही किसी इंजीनियर से रिपेयर करा ले।
  7. हमेशा घर में पूर्व दिशा की ओर मुंह करके ही भगवान की पूजा करें।
  8. हर 4 महीने बाद घर में सत्यनारायण की पूजा करें और होम हवन जलाए क्योकि होम हवन की अग्नि पूरे घर में फैलती है। और सत्यनारायण की पूजा करते समय किये जाने वाले मंत्रों से घर में प्रसन्नता आती हे।

घर में वास्तु दोष शांति के तंत्र मंत्र और टोटके कौन से होते हैं ?

"<yoastmark

  1. सबसे पहले तो घर की नजर उतार कर उसे लिम्बु मिर्ची बांध दे। और हर अमावस्या को घर की नजर उतारकर किसी कोने में लिम्बु मिर्ची को धागे से बांध दें।
  2. हर 4 महीने बाद घर में सत्यनारायण की पूजा करें।
  3. घर के पूजा घर में हमेशा एक दिया जलाते रखिये उसे कभी भी बुझने ना दे।
  4. घर में अगर वास्तु दोष हो तो थोड़े चावल उबाल कर उस पर दही डाल दे और उसे हल्दी कुमकुम से पूजा करके किसी रास्ते के चौराहे पर रखे यह करते वक्त याद रखें कि चौराहा घर से दूर हो।
  5. पानी से भरे नारियल को लाल कपड़े में बांध कर घर के चारो दिशा के कोने में बांध दें।

वास्तु दोष निवारण यंत्र :

"<yoastmark

जानिए :

वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की सीढ़ियों की बनावट

वशीकरण के प्रभावशाली टोटके लाल किताब टोटके हिंदी में

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!