loading...

वीर्य का पतलापन दूर करने के असरदार उपाय

वीर्य का पतलापन

वीर्य का पतलापन

वीर्य का पतलापन

वीर्य में पतलापन होने के कारण :

गलत संगत में पड़कर वेश्या गमन करणे, अत्यधिक सहवास करणे, हस्तमैथुन की आदत का शिकार होने के कारण, वीर्य में पतलापन आ जाता है। वीर्य का पतलापन वस्तुतः इस बात का प्रतीक है कि व्यक्ति का वीर्य कमजोर तथा निर्बल हो गया है। कामुक विचारों तथा अश्लील साहित्य को पढ़ने से,  अधिक उत्तेजना के कारण वीर्य पात हो जाता है। यह स्थिति भी यदि लगातार बनी रहे तो वीर्य पतला हो जाता है।

वीर्य का पतलापन के लक्षण :

वीर्य का प्रमुख कार्य संतान उत्पत्ति है। यदि वीर्य पतला और कमजोर होता है तो नपुंसकता के लक्षण प्रकट होने लगते हैं तथा संतान उत्पत्ति में बाधा आती है।

वीर्य में पतलापन उपचार :

  • जामुन: जिन व्यक्तियों का वीर्य पतला हो तो था जरा सी उत्तेजना में ही वीर्यपात हो जाता हो उनके लिए जामुन काफी लाभदायक है। वीर्य का पतलापन दूर करने हेतु 5 ग्राम जामुन की गुठली का चूर्ण हर रोज शाम को गर्म दूध के साथ सेवन करें। इससे वीर्य गाढ़ा और शक्तिशाली होता।
  • केला: केला शुक्रवर्धक फल है इसके नियमित सेवन से वीर्य पुष्ट होता है।
  • छुहारा: पतली धातू के रोगियों के लिए छुहारा बेहद उपयुक्त होता है हर रोज़ दो-तीन छुआरे खाने से धातु गाढ़ा हो जाता है।
  • बेल: बेल का गुदा और बेलपत्र दोनों धातु को पुष्ट करते हैं। 50 ग्राम बेलपत्र कुट पीसकर चूर्ण बना ले। 3 ग्राम चूर्ण को एक चम्मच शहद में मिलाकर सुबह शाम सेवन करें। इससे धातु पुष्ट होगी इसके अलावा यदि बेल का गूदा निकालकर बीज और छिल्का अलग करके उसने मलाई मिलाकर खाए तो धातु पुष्ट हो जाएगी।
  • बेर: जिन व्यक्तियों का वीर्य पतला हो गया हो वह बेर का प्रयोग करें। नियमित रोजाना बेर खाने से वीर्य गाढ़ा और पुष्ट होता है।

वीर्य गाढा बनाए रखने के लिए हस्तमैथुन ना करें। और कामुक विचार छोड़कर कामुक किताबे ना पढे।

देसी घरेलु उपाय हिंदी में जानकारी
पेट के रोग वशीकरण के उपाय
चेहरे की सुंदरता नौकरी लगने के टोटके
बालों का इलाज लड़की को पटाने के तरीके
 यौन रोगों का इलाज सपनो का अर्थ स्वप्नफल
प्रेगनेंसी की टिप्स खाने के फायदे
मासिक धर्म(पीरियड्स) दिमाग तेज कैसे करे?
 मोटापा कम करे भगवान की पूजा
 दांत के उपाय स्मोकिंग की आदत से छुटकारा
 बाबा रामदेव योगा लाल किताब के टोटके

Leave a Reply