डिलीवरी होने के बाद सेक्स करना
डिलीवरी होने के बाद सेक्स करना

Last Updated on

नमस्ते दोस्तों, कैसे करे में आपका स्वागत है। आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बहुत ही महत्वपूर्ण जानकारी देने वाले हैं, कि बच्चा पैदा होने के बाद सेक्स कब करना चाहिए। जब औरत प्रेग्नेंट होती है, तभी उसके जीवन में कई सारी उतार-चढ़ाव आते हैं। 9 महीने के सफर में उसको कई सारे मानसिक और शारीरिक बदलाव से गुजरना पड़ता है।

जब भी औरत बच्चे को जन्म देती है। उसके लिए वह समय बहुत ही खूबसूरत होता है। जिसका इंतजार हर महिला और हर मां-बाप करते हैं, लेकिन जब महिला प्रेग्नेंट होती है, उसके बाद महिला और पुरुष शारीरिक संबंध नहीं बना सकते हैं और यह कलावधी बहुत बड़ा होता है, तब दोनों के मन में यौन संबंध बनाने की इच्छा उत्पन्न होती है, जैसे ही बच्चा पैदा हो जाता है उसके बाद महिला और पुरुष दोनों के दिमाग में यही सवाल आता है, कि बच्चा पैदा होने के बाद कितने दिन बाद तुम को सेक्स करना चाहिए।

बच्चा पैदा होने के बाद महिला का शरीर बहुत कमजोर हो जाता है और महिलाओं शरीर पर बहुत घाव हो जाते हैं। वह घाव भरने के लिए कुछ महीने का समय लगता है और उसी के साथ साथ महिला के सिर पर और  बहुत बड़ी जिम्मेदारी होती है, क्योंकि अगर महिला को अपने बच्चे का ध्यान नहीं रख पाती हैं और डिलीवरी के बाद महिला बहुत ज्यादा कमजोर हो जाती है।

यदि डिलीवरी के तुरंत बाद अगर वह संभोग करती है, तो इससे उनके शारीरिक और मानसिक स्वास्थ्य पर प्रभाव पड़ता है। इसके लिए बच्चा पैदा होने के बाद कम से कम आपको 4 महीने बाद शारीरिक संबंध बनाना चाहिए।

डिलीवरी होने के बाद सेक्स करना : Sex After Pregnancy in Hindi :

बच्चा पैदा होने के बाद सेक्स
बच्चा पैदा होने के बाद सेक्स

सेक्स करना एक शारीरिक जरूरत है, लेकिन कभी भी अपने पार्टनर को जबरदस्ती या फिर बिना उनकी मर्जी के शारीरिक संबंध बनाना बहुत गलत बात है। उससे आप उनको शारीरिक हानि पहुंचाते है और बिना उनकी मर्जी के आप शारीरिक संबंध बनाने का मजा भी नहीं ले पाओगे। सबसे पहले अपनी पत्नी और अपने बच्चे का स्वस्थ होना बहुत जरूरी है, क्योंकि जब महिला शिशु को जन्म देती है, तो वह पूरी तरह से कमजोर हो जाती है और महिला की योनि में भी सही सारे घाव होते हैं और योनि से रक्त प्रभाव होने के कारण योनि भी कमजोर हो जाती है। यदि आप इस समय संभोग करते हैं, तो महिला को गुप्तांगों की समस्या भी हो सकती है और महिलाओं को इससे पीड़ा होगी और उनको शारीरिक तथा मानसिक समस्या का सामना करना पड़ सकता है।

डिलीवरी के बाद महिला के शरीर में बहुत सारे बदलाव आ जाते हैं और वह सेक्स करने से हीचकीचाती है, क्योंकि उनके शरीर पर निशान आ जाते हैं और वह पहले से ज्यादा मोटी भी हो जाती है, क्योंकि उनको 9 महीने बहुत ज्यादा अपने खाने पीने का ध्यान रखना पड़ता है और शरीर की ज्यादा हाल-चाल नहीं करनी पड़ती है। इसके लिए महिलाओं का वजन बढ़ जाता है और इसी बात को मन में रखकर महिला यह सोचती है कि, क्या उनके पति उनसे पहले जितना प्यार करेंगे या फिर उनको देखकर अच्छा नहीं लगेगा या फिर वह पहले इतनी अच्छी नहीं दिखती है, तो शारीरिक स्वास्थ्य के साथ-साथ महिला का मानसिक स्वास्थ्य खराब रहता है, लेकिन बिना अपनी पत्नी के मर्जी अगर आप उनसे सेक्स करते हैं, तो आप बहुत गलत करते हो। अगर आप अपनी पत्नी से प्यार करते हैं तो, आप कुछ महीने इंतजार नहीं कर सकते क्या? क्योंकि सबसे ज्यादा जरूरी आपकी पत्नी  स्वास्थ्य है।

डिलीवरी के कम से कम 4 महीने बाद आप सेक्स नही कर सकते हैं और वह भी हफ्ते में कम से कम 2 बार, क्योंकि महिला का शरीर पूरी तरह से मजबूत नहीं हुआ होता है रोजाना सेक्स करने के लिए और यदि रोजाना सेक्स करते हैं, तो उससे उनको तकलीफ हो सकती है।

पत्नी के साथ डिलीवरी के कितने दिन बाद सेक्स करना चाहिए? Sex with wife after pregnancy :

कई सारे पुरुष और महिलाओं के दिमाग में यह सवाल होता है, कि पत्नी की डिलीवरी के बाद कितने दिन बाद और सेक्स कर सकते हैं? दोस्तों जब महिला शिशु को जन्म देती है, तो उनके शरीर से बहुत ज्यादा रक्त प्रवाह हुआ होता है। उसकी वजह से  महिला बहुत ज्यादा कमजोर हो जाती है।

बच्चे को जन्म देते समय महिला की योनि में कई सारे घाव हो जाते हैं और यदि प्रेगनेंसी के तुरंत बाद पुरुष महिला से शारीरिक संबंध बनाता है तो उनके घाव भरे नहीं होते हैं और उसकी वजह से उनको ज्यादा तकलीफ हो सकती है और घाव पूरी तरह से ना होने के कारण उनके गुप्तांगों में इंफेक्शन हो सकता है और गुप्तांगों के रोग भी हो सकते हैं।

डिलीवरी के भी दो प्रकार होते हैं। नॉर्मल डिलीवरी और सिजेरियन डिलीवरी दोनों में बहुत अंतर है, तो चलिए जानते हैं नॉर्मल डिलीवरी और सिजेरियन डिलीवरी के कितने महीने बाद आप संभोग कर सकते हैं।

नॉर्मल डिलीवरी के 4 महीने बाद सेक्स : Sex after normal Delivery in Hindi :

अगर महिला की नार्मल डिलीवरी होती है, तो डिलीवरी के 4 महीने बाद आप उनसे शारीरिक संबंध बना सकते हैं, लेकिन इस चीज का ध्यान रखें कि आप महिला को जबरदस्ती या फिर उनके बिना मर्जी के सेक्स ना करें, क्योंकि वह मानसिक और शारीरिक दृष्टि से स्वस्थ नहीं रहती है और इस चीज का ध्यान रखें कि प्रेगनेंसी के बाद कुछ महीने तक आपको सिर्फ हफ्ते में कम से कम 2 बार ही सेक्स करना है उससे ज्यादा नहीं।

सिजेरियन डिलीवरी के बाद 6 महीने बाद सेक्स : Sex after Cesarean Delivery in Hindi :

सिजेरियन डिलीवरी के बाद आप 6 महीने बाद महिला से शारीरिक संबंध बना सकते हैं, क्योंकि सिजेरियन डिलीवरी में बहुत ज्यादा कॉम्प्लिकेशंस होते हैं और महिला नॉर्मल डिलीवरी सिजेरियन डिलीवरी में ज्यादा कमजोर हो जाती है और उनको कुछ भी भारी वजन या फिर किसी भी तरह की शारीरिक  गतिविधियों पर ध्यान रखना पड़ता है। एक छोटी से छोटी गलती महिला के लिए बड़ी से बड़ी समस्याएं उत्पन्न कर सकती हैं। सिजेरियन डिलीवरी के बाद हफ्ते में सिर्फ दो बार ही सेक्स करें। उससे ज्यादा नहीं और बिना अपनी पत्नी के मर्जी की सेक्स के लिए उनको जबरदस्ती ना करें।

प्रेगनेंसी के बाद सेक्स करते समय क्या ख्याल रखें ? Tips for sex after Pregnancy in Hindi :

प्रेगनेंसी के तुरंत बाद अगर आप सेक्स करते हैं, तो आपको कुछ चीजों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। सेक्स करते समय अपने पति को कंडोम पहनने के लिए कहे अगर आपके पति या फिर आपको किसी भी तरह का इंफेक्शन है, तो सेक्स ना करें। अगर सेक्स करते समय आपकी योनि से ब्लीडिंग होने लगे तो तुरंत डॉक्टर की सलाह लेनी चाहिए और ऐसे समय में सेक्स नहीं करना चाहिए।  बिना अपने पार्टनर के मर्जी के सेक्स नहीं करना चाहिए, क्योंकि प्रेगनेंसी के बाद महिला के शरीर में कई सारे बदलाव होते हैं और वह सेक्स करने के लिए शारीरिक और मानसिक रूप से कमजोर हो जाती है। इसके लिए उनसे जबरदस्ती करके सेक्स ना करें।

प्रेगनेंसी के बाद भी महिला प्रेग्नेंट होने की संभावना बनी रहती है, इसके लिए आपको सेक्स करते समय सुरक्षा का ध्यान रखना बहुत जरूरी है। प्रेगनेंसी के बाद महिला की शारीरिक संबंध बनाने की इच्छा कम हो जाती है इसके लिए महिलाओं को सेक्स करने के लिए मजबूर नहीं करना चाहिए। सेक्स करने के बाद अपने गुप्तांगों को अच्छे से धो लेना चाहिए, क्योंकि इससे आपके गुप्तांगों में इंफेक्शन होने का खतरा कम हो जाता है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here