प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव या नेगेटिव आने पर क्या करना चाहिए ?

0

नमस्ते दोस्तों, आज हम आपको प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर क्या करें के बारे में जानकारी देने वाले हैं | प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर महिलाएं बहुत ही डर जाती है, क्योंकि कई बार महिलाओं को प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने के बारे में किसी प्रकार की उम्मीद नहीं होती है |

कुछ महिलाएं शादी होने के बाद भी बच्चा पैदा करना नहीं चाहती है, क्योंकि हर फैमिली का कहना होता है कि जब हमारी फैमिली पूरी तरह से सेटल होगी तब ही हम बच्चे को जन्म देंगे लेकिन प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आती है, तब महिलाओं को बहुत ही डरावना महसूस होता है |

प्रेगनेंसी कैसे होती है ?प्रेगनेंसी कैसे होती है

  • प्रेगनेंसी कैसे होती है यह बहुत सारी महिलाओं को और जवान लड़कियों को पता नहीं होता है, अगर आपको प्रेगनेंसी की पूरी प्रोसेस पता चल जाती है तो आगे चलकर आपको किसी प्रकार की प्रॉब्लम नहीं आएगी |
  • प्रेगनेंसी का मतलब होता है महिला के पेट में बच्चा तैयार होने की क्रिया शुरू होना, इस प्रोसेस को करने से पहले पुरुष और महिला के अंदर शारीरिक संबंध होना जरूरी होता है | महिला और पुरुष के अंदर अगर शारीरिक संबंध नहीं होते हैं तो महिला प्रेग्नेंट नहीं हो सकेगी, महिला को प्रेग्नेंट बनाने के लिए पुरुषों के स्पर्म सबसे महत्वपूर्ण होते है |
  • पुरुष और महिला जब एक दूसरे के साथ संभोग करते हैं तब पुरुषों के लिंग से वीर्य बाहर निकलता है, यह वीर्य जब महिला के योनि के अंदर जाता है तब महिला के गर्भ में बच्चा तैयार होने की क्रिया शुरू होती है | अगर पुरुष और महिला के अंदर संभोग नहीं हुआ तो महिला के योनि में पुरुषों के स्पर्म नहीं जा सकेंगे जिसके कारण महिला प्रेग्नेंट होना संभव नहीं होगा |
  • इसलिए महिला प्रेग्नेंट होने के लिए पुरुषों के स्पर्म महिला के योनि के अंदर जाना जरूरी होता है | पुरुषों का वीर्य महिला के योनि के अंदर जाने के बाद महिला के गर्भ में प्रजनन क्रिया शुरू होती है तो आपने समझ जाना है कि महिला प्रेग्नेंट हो गई है, इस पूरी क्रिया को प्रेगनेंसी कहते हैं |

प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे किया जाता है ?

प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे किया जाता है
प्रेगनेंसी टेस्ट कैसे किया जाता है
  • बहुत सारी महिलाएं प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए चिकित्सक की तरफ जाती है, लेकिन हम महिलाओं को बताना चाहते हैं, कि प्रेगनेंसी टेस्ट करने के लिए चिकित्सक की तरफ जाने की कोई जरूरत नहीं है |
  • आप घर पर भी प्रेगनेंसी टेस्ट करा सकती हो, घर पर प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल करने से यह प्रेगनेंसी किट महिलाओं के मूत्र में एचसीजी हार्मोन की उपस्थिति का पता लगाकर काम करता है |
  • एचसीजी का मतलब होता है ह्यूमन कोरिया निक गोनेडोटरोपिन, महिलाओं के शरीर में एचसीजी हार्मोन का पता लगाने से महिला प्रेग्नेंट हुई है या नहीं यह आसानी से समझ आता है |
  • होम प्रेगनेंसी किट मेडिकल स्टोर पर या ऑनलाइन तरीके से आप खरीद सकती हो |
  • प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल करके जब आप प्रेगनेंसी टेस्ट करती हो तब आपने सुबह का समय निश्चित करना चाहिए क्योंकि सुबह के वक्त प्रेगनेंसी टेस्ट करने से आपको सही नतीजा मिलता है ऐसा चिकित्सक का कहना होता है |
  • सुबह के वक्त महिलाओं का मूत्र गाढ़ा और केंद्रित होता है जिसके कारण प्रेगनेंसी टेस्ट करना बहुत ही आसान बन जाता है | महिलाओं के गर्भाशय में निषेचित अंडाणु होते हैं, यह अंडा अगर फ़र्टिलाइज़र होता है तो महिला प्रेग्नेंट होती है साधारण कहा छठवें दिन या छठवें दिन के बाद पुरुषों का स्पर्म अंडे के साथ मिल जाता है, तब महिला प्रेग्नेंट होने की संभावना ज्यादा होती है |
  • प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल करने से पहले सबसे पहले अपना मूत्र प्रेगनेंसी टेस्ट किट के स्टिकपर डालें, जिससे आपको तुरंत समझ में आएगा कि आप प्रेग्नेंट हो या नहीं |
  • प्रेगनेंसी टेस्ट किट के स्टिक पर महिला अपना मूत्र डालती है तब यह हमेशा ध्यान रखें कि मूत्र सुकने वाले हिस्से को मूत्र मार्ग की ओर रखें जिससे परिणाम दिखाने वाला हिस्सा ऊपर की और रहेगा, इस प्रोसेस को प्रेगनेंसी टेस्ट से प्रेगनेंसी की टेस्ट करते समय इस्तेमाल करते हैं |
  • अन्य में प्रेगनेंसी टेस्ट किट पर अगर पॉजिटिव रिजल्ट दिखता है तो आपने समझ जाना है कि आप प्रेग्नेंट हो चुकी हो, रिजल्ट अगर नेगेटिव होता है तो आप प्रेग्नेंट नहीं हो |

प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव या नेगेटिव आनेपर क्या करें ?

दोस्तों आज हम आपको लड़की का प्रेग्नेंट टेस्ट पॉजिटिव आने के बाद आपको क्या करना चाहिए और लड़की का नेगेटिव प्रेगनेंसी टेस्ट आने के बाद आप को क्या करना चाहिए के बारे में हम आपको बताने वाले हैं जिसे जानकर आप अनचाहे प्रेग्नेंसी से बच सकते हैं या फिर प्रेग्नेंट होने के लिए इसका इस्तेमाल कर सकते हैं |

कई बार ऐसा होता है कि हम हमारी गर्लफ्रेंड के साथ या बीवी के साथ सेक्स करते हैं और उसके पीरियड्स मिस हो जाते हैं | बाद में हमें पता चलता है कि प्रेगनेंसी का प्रमुख लक्षण है पीरियड मिस होना और हम इसी के कारण लगने से प्रेगनेंसी टेस्ट करवाते हैं जानने के लिए कि लड़की प्रेग्नेंट है यह लड़की प्रेग्नेंट नहीं है |

प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आया तो  क्या होता है ?

प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव आया मतलब वह प्रेग्नेंट नहीं है | इसको जानने के लिए आपको पीरियड मिस होने के बाद 10 दिनों बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए, जिससे कि आपको पता चल जाए कि लड़की प्रेग्नेंट है या नहीं| अगर पीरियड सही समय पर नहीं आए तो आपको 10 दिनों बाद प्रेगनेंसी टेस्ट जरूर करना चाहिए |

प्रेगनेंसी टेस्ट नेगेटिव कैसे समझता है ?

जब हम पीरियड मिस होने के 10 दिनों बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करते हैं सुबह के पहले ही दिन से यूरिन से | प्रेगनेंसी टेस्ट किट जैसे की प्रेगा न्यूज़ आपको एक गुलाबी कलर की लाइन दिखाई दे रहा है तो इसका मतलब यह होता है कि आप प्रेग्नेंट नहीं हो |

प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आई है तो क्या करें ?

प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आई है तो क्या करें
प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर क्या करें

महिलाओं को हम बताना चाहते हैं कि प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर किसी प्रकार की चिंता करने की जरूरत नहीं है, पुरुषों ने सेक्स करते समय प्रोटेक्शन का इस्तेमाल किया हुआ होता है जिसके कारण भी महिलाओं की प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आती है |

ऐसी स्थिति में आपने किसी प्रकार का तनाव ना लेते हुए ठंडे दिमाग से काम लेना चाहिए | इस वक्त सबसे पहले आपने चिकित्सक के पास जांच करनी चाहिए, अगर आप घर पर ही प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल करके प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहती हो तो यह बेहतर हो सकता है |

प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर महिलाओं के दिमाग में जितने भी सवाल आते हैं उन सारे सवालों का जवाब हम आपको नीचे दिए गए हुए जानकारी में देंगे इसलिए नीचे दी गई हुई जानकारी ठीक तरह से समझने की कोशिश करें |

प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर :

कई बार ऐसा होता है लड़के लड़कियां असुरक्षित यौनसंपर्क तरीका आजमाकर सेक्स करती है और इसी के कारण अनचाहे प्रेगनेंसी हो जाती है | इसके लिए उन्हें बहुत सारी बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है |

प्रेगनेंसी टेस्ट अगर पॉजिटिव आती है  तो महिलाओं ने समझ जाना है कि वह प्रेग्नेंट हो चुकी है | प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर आपने  खुद का ध्यान रखना चाहिए और खुद के शरीर को तंदुरुस्त बनाना चाहिए |

कई बार महिलाओं को ऐसा लगता है कि हमें बच्चा नहीं चाहिए, बच्चा ना होने के  कारण भी अगर टेस्ट पॉजिटिव आती है, तो आपने गर्भनिरोधक गोली का सेवन करके बच्चे की ग्रोथ होना रोकना चाहिए | लेकिन अगर आपको बच्चा चाहिए तो आपने गर्भनिरोधक गोली का सेवन बिलकुल नहीं करना चाहिए, गर्भनिरोधक गोली का सेवन करने से महिला के पेट में किसी प्रकार का गर्भ नहीं रहता है |

इसलिए प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव होने पर अगर बच्चा चाहिए तो बच्चा पैदा करने के लिए सक्षम बने, लेकिन अगर आपको बचा नहीं चाहिए तो गर्भनिरोधक गोली का सेवन करें या तो चिकित्सक की सलाह ले |

सेक्स करने के बाद अगर लड़की के पीरियड मिस हो जाए और पीरियड मिस होने के 10 दिनों बाद सुबह के पहले यूरिन से प्रेगा न्यूज़ प्रेगनेंसी टेस्ट किट या फिर अन्य किसी प्रेगनेंसी टेस्ट किट से आप प्रेगनेंसी टेस्ट करवाती हो तो अगर उस पर दो पिंक कलर की लाइन जाती है तो आप प्रेग्नेंट हो |

अगर आपको प्रेगनेंसी नहीं चाहिए तो आपको प्रेग्नेंसी रोकने के उपाय करना चाहिए जिससे कि गर्भपात हो जाए वरना आपको बच्चे को जन्म देना पड़ सकता है अगर यह प्रिया एक से 2 हफ्ते के अंदर नहीं की जाए तो गर्भपात होने की संभावना कम हो जाती है|

तो यह थी हमारी प्रेगनेंसी टेस्ट पॉजिटिव आने पर क्या करना चाहिए और प्रेगनेंसी नेगेटिव आने पर क्या करना चाहिए |

लंबे समय तक सेक्स करने के उपाय

बच्चा चाहिए तो क्या करना चाहिए ?

बच्चा चाहिए तो क्या करना चाहिए
बच्चा चाहिए तो क्या करना चाहिए
  • शादी होने को ३-४ साल हो जाते हैं, लेकिन फिर भी पुरुष और महिला को बच्चा पैदा नहीं होता है | इसलिए बहुत सारे कपल्स बच्चा पैदा करने के तरीके इस्तेमाल करके बच्चा पैदा करने के बारे में हमेशा सोचते रहते हैं |
  • दोस्तों ऐसा कहा जाता है कि इस दुनिया में सबसे आसान बात है बच्चा पैदा करना, बच्चा पैदा करने के लिए पुरुष और महिला के अंदर शारीरिक संबंध होना सबसे ज्यादा जरूरी होता है | पुरुष और महिला के अंदर शारीरिक संबंध अगर नहीं होता है तो बच्चा पैदा नहीं होगा क्योंकि यह प्रोसेस पूरी तरह से पुरुष और महिला पर निर्भर है |
  • पुरुषों के शरीर में स्पर्म नामक एक पदार्थ होता है, जो सम्भोग करते समय महिला के योनि के अंदर जाकर महिला के गर्भ में प्रजनन क्रिया शुरू करता है |
  • महिला के गर्भ में जब प्रजनन क्रिया शुरू होती है तब महिला प्रेग्नेंट बन जाती है, महिला को प्रेग्नेंट बनाने के लिए कुछ छोटी-छोटी बातों का ध्यान पुरुष और महिला दोनों ने रखना चाहिए |
  • जिन पुरुषों का वीर्य गाढ़ा नहीं होता है उन पुरुषों ने वीर्य को गाढ़ा बनाना चाहिए और महिलाओं ने सेक्स करते समय योनि का ऊपरी हिस्सा ऊपर रखना चाहिए | जिससे पुरुषों के स्पर्म महिला की योनि के अंदर तक जाएंगे, जिससे बच्चा पैदा होना आसान हो जाएगा इन छोटी-छोटी बातों का अगर आप ध्यान रखोगे तो आसानी से आपको बच्चा हो जाएगा |

कितने दिन बाद प्रेगनेंसी का सही पता चलता है ?पीरियड्स के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी का सही पता चलता है

  • महिलाओं को जब पीरियड्स नहीं आती है मतलब पीरियड मिस हो जाती है, तब महिलाओं के दिमाग में पहला ख्याल आता है कि महिला प्रेग्नेंट बन चुकी है |
  • अक्सर पीरियड ना आने पर महिलाओं के दिमाग में विभिन्न प्रकार के ख्याल आते रहते हैं, लेकिन पीरियड मिस होने पर महिला प्रेग्नेंट ही है इस बात की कोई गारंटी नहीं होती है |
  • कई बार महिला के शरीर में विभिन्न बदलाव होने के कारण भी महिला की पीरियड मिस हो सकती है, पीरियड के बाद अगर आपको प्रेगनेंसी का सही नतीजा चाहिए तो आपने प्रेगनेंसी टेस्ट सही वक्त पर करना जरूरी होता है |
  • पीरियड मिस होने से महिलाओं को बहुत ही तनाव आ जाता है, महिलाओं को हम बताना चाहते हैं कि चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है | पीरियड मिस होने के ५ दिन बाद आपने प्रेगनेंसी टेस्ट करनी चाहिए जिससे आपको तुरंत समझ जाएगा कि आप प्रेग्नेंट हो या नहीं |
  • प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल करने के बाद अगर नतीजा पॉजिटिव आता है तो आप प्रेग्नेंट हो, लेकिन नतीजा अगर नेगेटिव आता है तो आप प्रेग्नेंट नहीं हो |
  • पीरियड मिस होने पर अगर आपको ऐसा लगता है कि आप प्रेग्नेंट हो तो सही रिजल्ट पाने के लिए आपने पीरियड मिस होने के ५ से १० दिनों के अंदर अंदर प्रेगनेंसी टेस्ट करना चाहिए |
  • महिलाओं के शरीर में एचसीजी हार्मोन की मात्रा के कारण हम आसानी से जान सकते हैं कि महिला प्रेग्नेंट है या नहीं, प्रेगनेंसी के १४ दिन बाद एचसीजी हार्मोन महिलाओं के शरीर में इतना बढ़ जाता है की प्रेगनेंसी किट द्वारा हम आसानी से जान सकते हैं कि महिला प्रेग्नेंट है या नहीं |

प्रेगनेंसी टेस्ट करने के किट की जानकारी ?

प्रेगनेंसी टेस्ट करने के किट की जानकारी
प्रेगनेंसी टेस्ट करने के किट की जानकारी
  • प्रेगनेंसी टेस्ट वह महिलाएं करती है जिनकी पीरियड किसी महीने आती नहीं है, लंबे दिनों के बाद भी जब पीरियड नहीं आती है तब महिलाओं को ऐसा लगता है कि मैं प्रेग्नेंट हो चुकी हु |
  • इसलिए प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल करके महिलाएं नतीजा जानना चाहती है कि वह प्रेग्नेंट है या नहीं, प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल करते समय कई बार नतीजा नेगेटिव आता है | मासिक धर्म रुक जाने के बाद कई बार नतीजा निगेटिव ही आता है, इसलिए नतीजा सही लाने के लिए महिलाओं को कुछ दिनों का इंतजार जरूर करना पड़ेगा |
  • पीरियड रूक जाने के ५ से १० दिनों के बाद ही आपने प्रेगनेंसी टेस्ट का इस्तेमाल करना चाहिए, प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल करते समय महिलाओं की पेशाब इस स्टिक पर डालनी पड़ती है जिसके कारण प्रेगनेंसी किट हमें सही नतीजा बताता है |
  • प्रेगनेंसी किट पर पेशाब जरूरी होने के कारण पेशाब आने के लिए महिला बहुत ज्यादा पानी पी लेती है जिसके कारण पेशाब पतली हो जाती है जिसके कारण प्रेगनेंसी का नतीजा फिर से नेगेटिव आ सकता है | इसलिए महिलाओं को हम बताना चाहते हैं कि प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल सुबह के वक्त ही करें |
मासिक धर्म का बंद होना

बच्चा नहीं पैदा करना है तो क्या करना चाहिए ?

बच्चा नहीं पैदा करना है तो क्या करना चाहिए
बच्चा नहीं पैदा करना है तो क्या करना चाहिए
  • अगर आपको बच्चा पैदा नहीं करना है तो आपने शादी होने के बाद शारीरिक संबंध बनाते समय किसी प्रोटेक्शन का इस्तेमाल करना चाहिए | बहुत सारे कपल्स को मालूम नहीं होता है कि बच्चा पैदा नहीं करना है तो क्या करना चाहिए |
  • कुछ कपल्स बच्चा ना होने के लिए एक दूसरे के साथ सेक्स भी नहीं कर सकते हैं, दोस्तों इतनी चिंता करने की कोई जरूरत नहीं है | अगर आपको बच्चा पैदा नहीं करना है तो पुरुषों ने सेक्स करने से पहले अपने लिंग पर कंडोम पहनकर संभोग करना चाहिए |
  • लिंग पर कंडोम पहनकर संभोग करने से पुरुषों का वीर्य महिला के योनि के अंदर नहीं जाता है, जिसके कारण महिला प्रेगनेंट होना नामुमकिन है | बहुत सारे कपल्स ऐसे होते हैं जो बच्चा ना होने के लिए किसी भी प्रोटेक्शन का इस्तेमाल नहीं करते हैं |
  • पुरुषों का वीर्य अगर महिला के योनि के अंदर गया, लेकिन सेक्स करने के बाद अगर महिला गर्भनिरोधक गोली का सेवन करती है तो महिला के पेट में गर्भ नहीं ठहर सकेगा |
  • गर्भनिरोधक गोली बच्चे का विकास रूकाती है और गर्भ को बाहर निकाल देती है इसलिए बच्चा ना होने के लिए सारे प्रोटेक्शन का इस्तेमाल करना जरूरी है |

पपाया का सेवन करने से क्या सच में पीरियड्स आते हैं ?

  • पपीते का सेवन करने से सचमुच पीरियड्स आते हैं, बहुत सारी महिलाओं को शरीर की समस्याओं के कारण पीरियड्स नहीं आते हैं | अगर आपको २ महीने से लगातार पीरियड नहीं आए हैं तो आपने ३ से ४ दिनों तक लगातार पपीते का सेवन करना चाहिए |
  • लगातार पपीते का सेवन करने से पीरियड्स आने में मदद होती है, जिन महिलाओं का वजन बहुत ज्यादा होता है उन महिलाओं को पीरियड्स आने में थोड़ी कठिनाई होती है |
  • वजन कम करने के लिए अगर आप पपीते का सेवन करती हो तो आसानी से आपका वजन कम होगा और आपको हर महीने पीरियड आना शुरू हो जाएगा |
  • पपीते का सेवन करने से महिलाओं के शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है और महिलाएं सारी बीमारियों से दूर रहती है जिससे पीरियड के समय में महिलाओं को किसी प्रकार की परेशानी नहीं होती है |
  • पपीते में विटामिन सी होता है, जो महिलाओं के शरीर का पूरा विकास होने के लिए मदद करता है और पीरियड्स आने में भी मदद करता है इसलिए जल्दी पीरियड्स लाने के लिए पपीते का सेवन करें |

प्रेगनेंसी ना होने के लिए क्या ख्याल रखें ?प्रेगनेंसी ना होने के लिए क्या ख्याल रखें

  • खासकर जवान लड़कियों को यह सवाल आता ही है क्योंकि जवान लड़कियां जब अपने पार्टनर के साथ शारीरिक संबंध बनाती है तब कई बार गलतियों के कारण लड़कियां प्रेग्नेंट हो जाती है | इसलिए लड़कियों ने और महिलाओं ने प्रेगनेंसी ना होने के लिए कुछ विशेष ख्याल रखना चाहिए, सबसे पहले तो हम आपको बताना चाहेंगे कि अगर आपको प्रेग्नेंट नहीं होना है तो आपने आपके पार्टनर को संभोग करने से पहले कंडोम का इस्तेमाल करने के लिए कहना चाहिए |
  • पुरुष जब अपने लिंग पर कंडोम का इस्तेमाल करता है तब पुरुषों का वीर्य महिला के योनि के अंदर नहीं जाता है जिसके कारण महिला के शरीर में प्रजनन क्रिया नहीं शुरू हो पाती है | प्रेगनेंसी ना होने के लिए आपने ओवुलेशन समय पर ध्यान रखना चाहिए, किसी महीने अगर आपको पीरियड्स नहीं आती है तो यह प्रेग्नेंट होने का लक्षण हो सकता है |
  • सही वक्त पर या सही तारीख पर अगर पीरियड्स नहीं आती है तो आप प्रेग्नेंट हो सकती हो | इसलिए पीरियड्स न आने के बाद चार-पांच दिनों के अंदर अंदर ही आपने प्रेगनेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल करके प्रेगनेंसी की जांच करवा लेनी चाहिए |
  • संभोग करते समय अगर आपको कंडोम का इस्तेमाल करना नहीं अच्छा लगता है तो आपने आपके बीवी को गर्भनिरोधक गोली का सेवन करने के लिए कहना चाहिए जिससे प्रेगनेंसी होना असंभव हो जाएगा |

गर्भावस्था के महीने की जानकारी

क्या आपको यह लेख पसंद आया ?

Leave A Reply

Your email address will not be published.