गर्भावस्था के महीने की जानकारी Pregnancy month by month in hindi

Pregnancy in hindi month by month pregnancy month by month in hindi  pregnancy tips week by week in hindi  गर्भ में लड़का होने के लक्षण कैसे पता लगाएं कि पेट में लड़का है. bhi aapko information batayenge.

माँ बनने की ख़ुशी हर औरत को होती है . शादी के बाद पति पत्नी को सबसे करीब बच्चा ही  लेकर आता है . मगर माँ बनना इतना आसान काम नहीं है . और माँ की जिम्मेदारी क्या होती है ये भी निभाना पुरुषो को आसन लगता होगा मगर ये काफी मेहनत वाला काम है . लड़की ही ये काम बड़ी समजदारी से करती है . पत्नी को ९ महीने तक गर्भ की देखबाल  करनी पड़ती है .

pregnancy month by month in hindi
pregnancy month by month in hindi

प्रेगनेंसी में अगर लड़की आपकी सेहत का ध्यान नही रखती है तो इसका असर माँ पर और बच्चे पर भी पड़ता है . इसलिये अगर आप अपना ध्यान नहीं रखोगी तो आप के बच्चे की सेहत पर बुरा असर भी पद सकता है .

बच्चे की सेहत स्वस्थ अच्छी रखने के लिए माँ को पोषक आहार खाना चाहिए. जैसे ही लड़की के प्रेगनेंसी विक बाय विक में बदल आता है वैसे ही उनकी गर्भावस्था में बदलाव दिखाई देते है . इसी लिए महिला को अपने सेहत का ख्याल और बच्चे का खयाल रखने के लिए हर हप्ते में या हर महीने में कई सारी बातो का खयाल रखना चाहिए.

हर महीने में बच्चों के अंगो का बदलाव आता है.इसका असर बच्चें की माँ पर भी पड़ता है, तो आज जानते है प्रेगनेंसी महीने के महीने हिंदी में .

loading...

Navigate:

Pregnancy in hindi month by month

pregnancy in hindi month by month
pregnancy in hindi month by month

प्रेगनेंसी के १ से लेकर ९ महीनो का खयाल रखने के तरीके गर्भावस्था में बच्चे का विकास कैसे होता है. pregnancy me baby ki growth kaise hoti hai .

1 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का पहला महीना:

प्रेगनेंसी का पहिला महिना बहुत ख़ास होता है . प्रेग्नेंट होने का पता चलने के बाद इसका पहला महिना में –

क्या करना चाहिए :

  • आपको खाने पिने पर ध्यान रखना है जैसे की आपको खाने पिने में कैल्शियम, प्रोटीन और आयरन युक्त चीजों का इस्तमाल करना चाहिए. बच्चे की पहिले महीने से लेकर जनम होने तक माँ के खून का बहुत बड़ा योगदान है.
  • खाने में ज्यादा से ज्यादा पालक की सब्जी का इस्तमाल करे पालक की सब्जी में आयरन की मात्रा ज्यादा होती है .

क्या नहीं करना चाहिए :

  • किसी भी तरीके के भारी सामान वजन को उठाने से बचे .
  • पानी पिने के वक़्त उलटी आने से आपको घबराने की जरुरत नहीं है . इसको मितली आना भी बोलते है .
  • पपीता गलती से भी नहीं खाना है इसके खाने से गर्भपात हो सकता है .

2 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का दूसरा महीना:

प्रेगनेंसी का दूसरा महिना में बच्चे का ह्रदय का विकास होता है .गर्भावस्ता का दूसरा महिना बच्चे के अंगो का विकास करता है . बच्चे के चेहरे का आकर बनता है .

क्या करना चाहिए :

  • बच्चे के अंगो का विकास होने के लिए कैल्शियम और प्रोटीन युक्त चीजे खाने की जरुरत है .
  • दुसरे महीने में महिला जिस व्यक्ति के बारेमे ज्यादा सोचती है उसी प्रकार से बच्चे का चेहरा बनता है.
  • अच्छे किताबे पढना शुरू करे और अच्छा भोजन करे.

क्या नहीं करना चाहिए :

  • कैफीन युक्त पदार्थो का सेवन नहीं करना है .
  • किसी के बारेमे बुरा नहीं सोचना चाहिए.

3 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का तीसरा महीना:

प्रेगनेंसी का तीसरा महिना में बच्चे की हड्डियों का विकास होता है .

बच्चे के कान और बाहरी अंगो का विकास भी ३ रे महीने में होता है.

गर्भावस्ता के तीसरा  महीना  में गर्भ का सर का आकार बढ़ता है और बच्चा ३ इंच तक लम्बा हो जाता है .

बच्चे की आंख ,हाथ, पैर और उंगलिया इसी महीने में बनती है .

क्या नही करना चाहिए :

  • इस महीने में सबसे ज्यादा तनाव बढ़ता है तो आपको तनाव को नजर अंदाज करके स्वस्थ और खुशहाल रहने की कोशीश करे.
  • ज्यादा काम करने से बचे.
गर्भ मे शिशु का विकास
गर्भ मे शिशु का विकास

Image source : http://www.slideshare.net/alisontopper/prenatal-development-9564401

4 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का चौथा महीना

प्रेगनेंसी के चौथा महिना में बच्चे का हारमोंस पैदा होते है और बच्चे से amniotic liquid भी निकलने लगता है.

बच्चे के सर के बाल आने की शुरुवात होती है.

बच्चे का वजन और लम्बाई चौथे महीने में बढ़ने लगता है.

गर्भवती महिला का पेट का साइज़ बढ़ने लगता है .

क्या नहीं करना चाहिए :

  • गर्भवती महिला के तंग कपडे पहनने से बच्चे मांसपेशिया को पैदा होने में दिक्कत होती है .इसीलिए ज्यादा तंग कपडे नहीं पहने .
  • शराब और कोफ़ी जैसे चीजों का सेवन प्रेगनेंसी में नहीं करनी चाहिए .

5 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का पांचवा महीना

प्रेगनेंसी का पांचवा महीना  में बच्चे की पैर की और हाथ की उंगलिया का आकर बढ़ता है और उनका विकास होता है.

पांचवे महीने में गर्भ की हाथ पैर हिलाने की रफ़्तार बढती है और कभी कभी गर्भ एकदम शांत बैठता है .

क्या नहीं करना चाहिए :

  • बहार के खाने का इस्तमाल नहीं करना है.
  • जंक फ़ूड खाना बंद करे.

6 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का छठा महीना :

प्रेगनेंसी का छठा महीना में बच्चे की आँखों का विकास हो जाता है और बच्चा आंखे की पलकों को खोलता है और बंद करता है.

बच्चा लात मार सकता है और रो सकता है .

कुछ बच्चो का जन्म ६ महीने में ही हो जाता है और ६ महीने में बच्चे के पैदा होने के लिए ख़ास ध्यान रखना पड़ता है .

क्या नहीं करना है प्रेगनेंसी में :

  • खुद की मर्जी से किसी भी तरीके का व्यायाम या योग नहीं करना है .
  • अगर आपको योगा करना है तो सबसे पहले डॉक्टर की योग एक्सपर्ट की सलाह से ही करे.

पीरियड के कितने दिन बाद लड़की प्रेग्नेंट हो सकती है ?

7 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का सातवाँ महीना

प्रेगनेंसी का सातवाँ महीना में बच्चे को अंगूठा चूसने की आदत लग जाती है.

गर्भवती महिला के पेट को कान लगाने से बच्चे की धड़कन भी सुनाई देनी लगती है.

प्रेग्नेंट होने के बाद क्या नहीं करना चाहिए

  • आपको किसी भी प्रकार के खेल नहीं खेलने है.
  • ज्यादा देर तक खड़ा होने से आपके पेट पर जोड़ पड़ता है इसलिए ज्यादा देर तक खड़ा नहीं रहना है .

8 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का आठवां महीना

प्रेगनेंसी का आठवां महीना में बच्चे की हालचाल माँ की आसानी से पता चल सकती है.

आंठ्वे महीने में बच्चा नींद ले सकता है इस महीने में बच्चे को जागने और सोने की आदत लग जाती है .

8 वे महीने में बच्चे का वजन २ से 3 किलो तक होता है .

बच्चा अपनी आंखे पूरी तरह खोल पाता है.

क्या नियम पाले :

  • इस वक़्त अपने पेट की सुनना चाहिए और जब आपको भूख लगे तब खा लेना चाहिए.

9 month pregnancy in hindi गर्भावस्था का नववा महीना :

प्रेगनेंसी का नववा महीना बच्चा पैदा आखिरी माहिने में होने के लिए महिला को दर्द तो होता ही है मगर खुश भी उतनी ही होती है.

नववे महिने में बच्चे का सर निचे की तरफ और पैर ऊपर की तरफ हो जाते है .

नववा महीने में बच्चा शांत रहता है .

गर्भवती महिला के स्तनों से यानि की ब्रैस्ट से दूध आने लगना शुरू हो जाता है बच्चे को दूध पिलाने के लिए.

आंखरी महीने में ज्यादा ध्यान रखना है आपको . बेस्ट ऑफ़ लक .

Pet me ladka paida karne ke liye kya kare ?.

प्रेगनेंसी के 9 महीने में बच्चे का विकास कैसे होता है ?

हर महिला का मां बनना जीवन में सबसे बड़ा सुख होता है | प्रेगनेंसी का हर पल मां के लिए बहुत अहम होता है, और यदि मां को पहले से ही पता चल जाए की कौन से महीने में बच्चे का कौन सा कौन सा अंग विकसित होने वाला है तो इससे ज्यादा खुशी किसी और को नहीं मिलेगा |

इसलिए आज हम आपको बताएंगे कि पहले से 90 महीने तक बच्चा किस तरह मां के गर्भ में विकसित होता है |

प्रेग्नेंसी का पहला महीना मैं बच्चे का विकास कैसा होता है ?

प्रेग्नेंसी का पहला महीना
प्रेग्नेंसी का पहला महीना

प्रेगनेंसी के पहले महीने में एक पानी की बरेली में होता है, उस समय उनकी लंबाई केवल 0.6  सेंटीमीटर होती है |

प्रेगनेंसी के पहले महीने में बच्चे की लंबाई और बच्चे का वजन जल्दी से बढ़ता है |

प्रेग्नेंसी का दूसरा महीने में बच्चे का विकास कैसा होता है ?

प्रेग्नेंसी का दूसरा महीने में बच्चे का विकास
प्रेग्नेंसी का दूसरा महीने में बच्चे का विकास

प्रेगनेंसी के दूसरे महीने के दौरान बच्चे की सुनने की और देखने की इंद्रियां विकसित होती है, लेकिन बच्चों की आंखों की पलकें उस समय बंद रहती है | प्रेगनेंसी के दूसरे महीने में बच्चे का दिमाग विकसित होने लगता है और हाथ पैरों की उंगलियां और नाखून बढ़ने लगते हैं |

प्रेगनेंसी के दूसरे महीने में आमाशय और गुर्दे का विकास भी बच्चों का होता है, इस समय महिला को गर्भाशय पेट में एक गांठ की तरह महसूस होता है वही शिशु की देखभाल करता है | प्रेगनेंसी के दूसरे महीने में बच्चे की लंबाई 3 सेंटीमीटर तक होती है और बच्चे का वजन 1 ग्राम के आसपास होता है |

प्रेगनेंसी के तीसरे महीने में बच्चे का विकास कैसे होता है ?

प्रेगनेंसी के तीसरे महीने में बच्चे का विकास
प्रेगनेंसी के तीसरे महीने में बच्चे का विकास

प्रेगनेंसी के तीसरे महीने में शिशु के वोकल कॉर्ड्स बनने लगते हैं और बन जाते हैं प्रेगनेंसी के तीसरे महीने में शिशु अपना सिर ऊपर उठा सकता है, लेकिन उसका शिशु का आकार बहुत ही छोटा होता है इसलिए हलचल हमें ज्यादा महसूस नहीं होती है |

प्रेगनेंसी के तीसरे महीने में बच्चे की आंखें बनी होती है और पलकें भी बंद होती है | इस समय बच्चे की उंगलियां पर पंजे और पैरों की उंगलियों के नाखून विकसित हो जाते हैं |

प्रेगनेंसी के चौथे महीने में बच्चे का विकास कैसा होता है ?

प्रेगनेंसी के चौथे महीने में बच्चे का विकास
प्रेगनेंसी के चौथे महीने में बच्चे का विकास

प्रेगनेंसी के चौथे महीने में बच्चे की लंबाई जल्दी बढ़ती है और बच्चे के वजन में भी जल्दी बदलाव आते हैं | प्रेगनेंसी के चौथे महीने में बच्चे के बाल आने लगते हैं और शिशु की पलके बनने लगती है | प्रेगनेंसी के चौथे महीने में बच्चे की लंबाई 18 सेंटीमीटर तक होती है और प्रेगनेंसी के चौथे महीने में बच्चे का वजन 100 ग्राम तक हो जाता है|

प्रेग्नेंसी के पांचवे महीने में बच्चे का विकास कैसा होता है ?

प्रेग्नेंसी के पांचवे महीने में बच्चे का विकास
प्रेग्नेंसी के पांचवे महीने में बच्चे का विकास

प्रेग्नेंसी के पांचवे महीने में बच्चा ज्यादा हलचल करता है और कुछ समय बच्चा बिल्कुल शांत बैठता है | प्रेग्नेंसी के पांचवे महीने में बच्चे की लंबाई 25 से 30 सेंटीमीटर तक हो जाती है | प्रेगनेंसी के पांचवे महीने में बच्चे का वजन 200 से 450 ग्राम तक हो जाता है |

प्रेगनेंसी के छठे महीने में बच्चे का विकास कैसा होता है ?

प्रेगनेंसी के छठे महीने में बच्चे का विकास
प्रेगनेंसी के छठे महीने में बच्चे का विकास

प्रेगनेंसी के छठे महीने में बच्चे की आंखें पूरी तरह से विकसित हो जाती है और इस महीने में बच्चे की पलकें खुलने लगती है और बंद होने लगती है | बच्चे की त्वचा झुर्रि भरी और लाल होती है | बच्चे का छठे महीने में आवाज निकलने लगता है, उस समय बच्चा रो सकता है और मां को लात मार सकता है |  प्रेगनेंसी के छठे महीने में बच्चे को हिचकी भी आती है|

प्रेग्नेंसी के सातवें महीने में बच्चे का विकास कैसे होता है ?

प्रेग्नेंसी के सातवें महीने में बच्चे का विकास
प्रेग्नेंसी के सातवें महीने में बच्चे का विकास

प्रेग्नेंसी के सातवें महीने में बच्चे की धड़कन आप सुन सकते हो इस समय बच्चा अंगूठा भी चूसने लगता है | प्रेग्नेंसी के सातवें महीने में बच्चे की लंबाई 30 से 40 सेंटीमीटर तक होती है और इस समय बच्चे का वजन 1100 ग्राम से 1350 ग्राम तक होता है |

प्रेगनेंसी के आठवें महीने में बच्चे का विकास कैसे होता है ?

प्रेगनेंसी के आठवें महीने में बच्चे का विकास
प्रेगनेंसी के आठवें महीने में बच्चे का विकास

प्रेगनेंसी के आठवें महीने में बच्चे की आंखें खुलने लगती हैं और इसी आठवें महीने में बच्चे को जागने की और सोने की आदत लग जाती है | प्रेगनेंसी के आठवें महीने में बच्चे का वजन 2000 से 2300 ग्राम तक होता है और बच्चे की लंबाई आंठवे महीने में 45 सेंटीमीटर तक होती है, प्रेगनेंसी के आठवें महीने में बच्चे की हलचल ज्यादा दिखाई देती है |

प्रेगनेंसी का नौवां महीना मैं बच्चे का विकास कैसा होता है ?

प्रेगनेंसी का नौवां महीना मैं बच्चे का विकास
प्रेगनेंसी का नौवां महीना मैं बच्चे का विकास

आमतौर पर महिलाओं को प्रेगनेंसी को 8 महीने होने के बाद भी बच्चा पैदा हो जाता है, लेकिन अगर यह बच्चा प्रेगनेंसी के 9 महीने होने के बाद पैदा होता है तो बच्चे में कुछ ज्यादा बदलाव नहीं आता है | प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में बच्चे का सिर नीचे की ओर होता है और बच्चे के पैर ऊपर की ओर हो जाते हैं | प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में बच्चा शांत रहता है | प्रेग्नेंसी के नौवें महीने में बच्चे की लंबाई 50 सेंटीमीटर तक होती है और इस समय बच्चे का वजन 3500 ग्राम के आसपास होता है |

तो दोस्तों यह थे प्रेगनेंसी के महीने मैं बच्चे के विकास के बारे में जानकारी अगर आपको किसी भी प्रकार की जानकारी और सवाल है तो आप हमें नीचे कमेंट में लिखकर जरूर बता सकते हैं|

प्रेगनेंसी कितने दिन में पता चलता है ?

महिला को गर्भवती होने के लिए पूरा गाइड

loading...

One Comment

  • aapka advice bahut hi saandar hai isse bahut madad milta hai

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

loading...