i-Pill गर्भ निरोधक टेबलेट सही तरह से कैसे और कब ले ?

, , 3 Comments

i-Pill गर्भ निरोधक टेबलेट की जानकारी: आज कल बाजार में बहुत ही गर्भ निरोधक टेबलेट औषधिया उपलब्ध है, जिससे आप अनचाहा गर्भ निकाल सकते हो। लेकिन यह गर्भनिरोधक टेबलेट औषधियों के कई प्रकार के साइड इफेक्ट्स होते हैं।

जो शरीर पर गहरा असर कर सकते हैं। इनमें से एक दवाई है I pill, यह एक गर्भ निरोधक टेबलेट गोली है जिससे आप अनचाहा गर्भधारण से बच सकते हैं।

गर्भनिरोधक इ पिल टेबलेट क्या है ?

गर्भनिरोधक इ पिल टेबलेट
गर्भनिरोधक इ पिल टेबलेट
  • आपातकालीन स्थिति में जब पुरुष और महिला एक दूसरे के साथ असुरक्षित यौन संबंध बनाते हैं तब इ पिल टेबलेट का इस्तेमाल महिला करती है | जिसके कारण महिला के शरीर में गर्भ नहीं ठहरता है |
  • इ पिल अनवांटेड ७२ यह काफी लोकप्रिय दवाई है, इस दवाई का सेवन अगर लड़की करती है तो लड़की के गर्भ में बच्चा तैयार होने की शुरुआत नहीं होगी |
  • असुरक्षित संभोग करने के बाद महिलाओं को गर्भावस्था से रोकने के लिए महिलाओं का शरीर उन्हें एक आखिरी मौका देता है | इस मौके पर अगर महिला इ पिल गर्भनिरोधक गोली का सेवन करती है तो महिला प्रेग्नेंट होना असंभव है |
  • बहुत सारी महिलाएं रेगुलर बर्थ कंट्रोल पिल का सेवन करते रहती है | महिलाओं को हम बताना चाहते हैं कि इ पिल का सेवन आपने आपके डॉक्टर के सलाह से ही करना चाहिए |

i-Pill की गोली कब लेना चाहिए ?

i-Pill की गोली कब लेना चाहिए
i-Pill की गोली कब लेना चाहिए
  • कई बार सेक्स करते समय पुरुषों का कंडोम फट जाता है, संभोग करते दौरान अगर पुरुषों का कंडोम फट जाता है तो इससे पुरुषों का वीर्य महिला के योनि में जाता है जिससे महिला प्रेग्नेंट होने की संभावना होती है |
  • ऐसी आपातकालीन स्थिति में अगर महिला इ पिल गर्भनिरोधक टेबलेट का सेवन कर लेती है तो महिला प्रेग्नेंट होना संभव नहीं है |
  • शरीर में सेक्स उत्तेजना आने के बाद बहुत सारे पुरुषों के पास कंडोम नहीं होता है, ऐसे वक्त बहुत सारे कपल्स बिना कंडोम सेक्स कर लेते हैं | दोस्तों अगर आप बिना कंडोम सेक्स करते हो और सेक्स करने के बाद महिला को इ पिल गर्भनिरोधक गोली का सेवन करने के लिए देते हो तो इससे महिला प्रेग्नेंट नहीं होगी |
  • अगर आपने बच्चा पैदा करने के लिए प्लान बनाया है, लेकिन कुछ समस्या के कारण आपको बच्चे को पैदा नहीं करना है तो ऐसे वक्त डॉक्टर को पूछकर आपने उचित गर्भनिरोधक गोली का सेवन करना चाहिए |

गर्भ निरोधक गोली इ पिल किट लेने के फायदे और नुकसान:

गर्भ निरोधक गोली इ पिल किट
गर्भ निरोधक गोली इ पिल किट
  • इ पिल किट अनचाहे गर्भ को रोकने में प्रयोग की जाती है और यह गर्भपात की दवा नहीं है।
  • इसे असुरक्षित सेक्स के बाद जल्द से जल्द लेना चाहिए।
  • इ पिल किट एक आपातकालीन गर्भनिरोधक गोली है।
  • इसका नवजात शिशु की मां के दूध की गुणवत्ता, मात्रा या  शिशु के विकास पर प्रभाव नहीं पड़ता।
  • यह HIV संक्रमण या अन्य यौन संचारित रोगों से सुरक्षा नहीं देती।
  • असुरक्षित सेक्स के 24 घंटे के भीतर खाने से इस के अवसर करने की संभावना 95 परसेंट होती है।
  • इसे खाने से पहले इसकी एक्सपायरी डेट इन जरुर देख लेना चाहिए।
  • अगर आप पहले से ही गर्भवती है तो यह दवा आपके कोई काम की नहीं।
  • इसे खाने के बाद आपको पेट दर्द हो सकता है।
  • इसे खाने के बाद आपको बेचैनी हो सकती है, और उल्टी भी हो सकती है।
  • आपको सिर दर्द हो सकता है और चक्कर भी आ सकते हैं।
  • इसे लेने के बाद पीरियड्स के रक्तस्राव बहुत कम या बहुत ज्यादा हो सकता है।
  • आपको हर बार इस गोली का उपयोग नहीं करना चाहिए। आपको कंडोम या किसी अन्य गर्भ निरोधक उपाय का प्रयोग करना चाहिए।
  • आपके स्तनों में दर्द हो सकता है। आपके स्तनों में थोड़े दिनों के लिए जरूरत से ज्यादा कोमलता आ सकती है।
  • असुरक्षित सेक्स (असुरक्षित संबंध) के 72 घंटे के भीतर खाने से इसके असर करने की संभावना 58% होती है।
  • सेक्स करने के 72 घंटे बाद इस गोली को खाने का कोई फायदा नहीं होता।
प्रेग्नेंट होने के टिप्स तरीके

i-Pill की गोली लेने के फायदे क्या है ?

i-Pill की गोली
i-Pill की गोली
  • इस गर्भनिरोधक गोली में प्रोजेस्टिन यह पदार्थ शामिल होता है जो सिंथेटिक हार्मोन होता है |
  • इस गोली का सेवन अगर महिला करती है तो महिला के ओवरी से अन्न बाहर आना बंद हो जाता है, जिसके कारण महिला के अंडाशय से पुरुषों के शुक्राणुओं का निषेचन नहीं होता है |
  • गर्भनिरोधक गोली का सेवन आप किसी भी समय और किसी भी जगह पर कर सकते हो | जैसे कि आप आपके पार्टनर के साथ होटल में हो और आप दोनों एक दूसरे के साथ शरीरसंबंध बनाते हो तो संभोग के तुरंत बाद आप आईपिल टेबलेट का सेवन कर सकते हो |
  • इस गोली का सेवन करने से महिला के गर्भाशय की रचना बदलकर निषेचित अंडा महिला के गर्भाशय में नहीं जा पाता है, जिससे महिला के शरीर पर प्रतिकूल प्रभाव नहीं पड़ता है और महिला प्रेग्नेंट नहीं होती है |

जानिए – मर्दाना कमजोरी का इलाज

इ पिल की गोली लेने के नुकसान क्या है ?

इ पिल की गोली लेने के नुकसान
इ पिल की गोली लेने के नुकसान
  • हर वक्त आपातकालीन स्थिति में गर्भनिरोधक गोलियों का सेवन करना एक सही विकल्प नहीं होता है |
  • हर किसी को असुरक्षित सेक्स करना अच्छा लगता है, क्योंकि असुरक्षित सेक्स करने में जितनी संतुष्टि मिलती है उतनी संतुष्टि सुरक्षित सेक्स करने से नहीं मिलती है |
  • जिसके कारण बहुत सारे कपल्स हमेशा असुरक्षित सेक्स करते हैं और असुरक्षित सेक्स करने के बाद महिला को गर्भनिरोधक गोली का सेवन करने के लिए कहते हैं |
  • महिला अगर लंबे समय से गर्भनिरोधक गोली का सेवन करते रहेगी तो इससे महिला का ओवुलेशन चक्र बदलने में मदद मिलेगी |
  • खासकर टीनएजर्स ने इस गोली का ज्यादा सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह गोली हमारे शरीर में हार्मोन असंतुलन का कारण बनती है |
  • गर्भनिरोधक गोली का हमेशा के लिए सेवन करने से अनियमित महावारी, बांझपन और संतुलित कामेच्छा में कमी, त्वचा की एलर्जी, ऐसे कुछ गलत लक्षण हमारे शरीर पर दिखाई देते हैं |

रोजाना इ पिल की गोली का सेवन करना क्यों हानिकारक है ?

रोजाना इ पिल की गोली का सेवन
रोजाना इ पिल की गोली का सेवन
  • रोजाना गर्भनिरोधक गोली का सेवन करने से इसका गलत असर महिलाओं के शरीर पर होना संभव होता है |
  • जो महिलाएं रोजाना गर्भनिरोधक गोली का सेवन करती है उन महिलाओं को माहवारी के समय में बदलाव आने जैसी समस्या का सामना करना पड़ता है |
  • लगातार गर्भनिरोधक गोली का सेवन करते रहने से इसका गलत असर महिला के शरीर पर होता है और महिला के शरीर का वजन बिल्कुल असंतुलित हो जाता है |
  • जो महिलाएं हर बार सेक्स करने के बाद इ पिल गर्भनिरोधक गोली का सेवन करती है, उन महिलाओं को बांझपन या कामेच्छा में कमी की समस्या आती है |
  • इसलिए हमेशा के लिए i-Pill की टेबलेट का सेवन ना करें, किसी दिन अगर आप इस टेबलेट का सेवन करते हो तो कोई बात नहीं है |

प्रेगनेंसी रोकने की गोली का सेवन कब करना चाहिए ?

प्रेगनेंसी रोकने की गोली
प्रेगनेंसी रोकने की गोली
  • गायनेकोलॉजिस्ट डॉक्टर का कहना होता है कि प्रेगनेंसी गोली का सेवन आपने सेक्स करने के ७२ घंटे से पहले करना चाहिए |
  • असुरक्षित सेक्स संबंध करने के बाद महिला अगर गर्भनिरोधक गोली का सेवन करती है तो महिला प्रेग्नेंट होना मुश्किल होता है | लेकिन ७२ घंटे हो जाने के बाद अगर महिला गर्भनिरोधक गोली का सेवन करती है तो इस गोली का असर बिल्कुल धीमा हो जाता है |
  • महिलाओं को हम बताना चाहते हैं कि यौनसंबंध के बाद कब गर्भनिरोधक गोली का सेवन करना चाहिए के बारे में आपने आपके निजी डॉक्टर से जान लेना चाहिए |
  • अगर आप हाई ब्लड प्रेशर, मधुमेह, पेट दर्द, सिर दर्द, स्तनों में दर्द, इन समस्याओं से पीड़ित है तो हम आपको बताना चाहते हैं कि गर्भनिरोधक गोली का सेवन ना करें |
 

3 Responses

    • कैसे करे

      December 23, 2018 6:57 am

      सेक्स करने के १० दिनों बाद सुबह के पहले युरिन से प्रेगनेंसी टेस्ट करने से सही पता चलता है |

      Reply

Leave a Reply